Sunday, Jan 19, 2020
kedarnath: pilgrims will e-rikshaw facility from rudra point to kedardham

केदारनाथ में अब भक्तों को जल्द मिलने जा रही है बड़ी सुविधा, लंबी चढ़ाई से मिलेगा छुटकारा

  • Updated on 7/31/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। बाबा केदारनाथ धाम(Kedarnath Dham) आने वाले भक्तों के लिए अब मंदिर तक पहुंचने का रास्ता थोड़ा आसान हो सकता है, जिसके चलते श्रद्धालुओं को 2 किलोमीटर कम पैदल यात्रा तय करना होगा। जी हां, भक्तों के लिए मंदिर तक पहुंचने के लिए अभी तक 16 किलोमीटर का रास्ता पैदल ही तय करना पड़ता था, लेकिन यह रास्ता अब 14 किलोमीटर ही रह जाएगा। क्योंकि जिला प्रशासन यहां जल्द ही ई-रिक्शा(E-rickshaw) चलाने की तैयारी में है। जहां भक्तों को रुद्रा प्वॉइंट से मंदिर तक 2 किलोमीटर तक के लिए ई-रिक्शा की सुविधा मिलेगी।

दिल के लिए बेहद जरूरी है पर्याप्त नींद, 7 घंटे से कम सोना हो सकता है बेहद खतरनाक

आरसीसी मार्ग को हो रहा निर्माण
बता दें जिला प्रशासन और मंदिर समिति ने रुद्रा प्वाइंट से संगम तक दो किलीमीटर तक आरसीसी मार्ग के निर्माण का फैसला लिया है और डीडीएमए-लोनिवि गुप्तकाशी डिवीजन ने इसके टेंडर आमंत्रित भी आमंत्रित कर दिए हैं। मिली जानकारी के अनुसार प्रशासन अक्टूबर में इस योजना का ट्रायल करेगा और अगर प्रशासन इसमें सफल होता है तो अगले साल जब श्रद्धालु बाबा केदारनाथ के दर्शन के लिए पहुंचेंगे तो उनके लिए इस योजना को पूरे प्रभावी तरीके से लागू किया जा सकता है।

अब PUBG हुआ पुराना इंडियन एयर फोर्स के Air Combat Game का ले मजा

यात्रियों को हो रही थी समस्या
बता दें केदारनाथ धाम में 2013 में आई आपदा के बाद से यहां गौरीकुंड से केदारनाथ धाम की दूरी 14 से बढ़कर 16 किलोमीटर तक हो गई थी। वहीं खड़ी चढ़ाई होने के चलते यात्रियों को यहां काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता था। यही नहीं स्थानीय लोगों को भी इस रास्ते के चलते काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ता है, जिसके चलते प्रशासन ने यह कदम उठाया है।

शामिया के पाकिस्तानी दुल्हन बनने की बात पर बोले हसन अली- जब तय हो जाएगी तो जरूर बताऊंगा

दो किमी तक घटेगी दूरी
बता दें प्रशासन और मंदिर समिति की इस पहल के बाद अब यात्रियों के लिए यह दूरी 2 किलोमीटर तक घट जाएगी। आरसीसी सड़क बनने के बाद यहां प्रशासन ई-रिक्शा चलाने की तैयारी में है, जिससे यात्रियों को यहां न तो खड़ी चड़ाई का कष्ट भोगना पड़ेगा और न ही पैदल चलने का।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.