Sunday, Dec 15, 2019
kedarnath-temple-open-for-pilgrims

मंत्रोच्चार और जय जयकार के बीच खुले केदारनाथ मंदिर के कपाट

  • Updated on 5/9/2019

रुद्रप्रयाग/ब्यूरो। भगवान शिव के द्वादश ज्योर्तिलिंगों में से एक केदारनाथ धाम (KEDARNATH DHAM) के कपाट विधि-विधान से वैदिक मंत्रों के उच्चारण के बीच वीरवार तड़के 5 बजकर 35 मिनट पर श्रद्धालुओं के दर्शनार्थ खोल दिए गए। कपाट खोलने की प्रक्रिया 4 बजे से ही शुरू की गई थी। दक्षिण द्वार पर रावल भीमाशंकर लिंग, केदारनाथ के पुजारी केदार लिंग और वेदपाठियों ने कपाट खुलने की रस्मों को संपादित किया।

इसके पश्चात मुख्य मंदिर द्वार पर पूर्व परंपराओं के अनुरूप विशेष पूजा-अर्चना और वेद मंत्रोंच्चार के साथ ठीक सुबह 5:35 बजे पर गर्भ गृह के द्वार खोले गए। इस मौके पर लगभग हजारों श्रद्धालुओं ने बाबा केदार की अखंड ज्योति के दर्शन किए। मान्यता है कि जो भी मानव, धाम में पहुंच कर बाबा केदार की अखंड ज्योति के दर्शन करता है, उसका सम्पूर्ण जीवन सुख व वैभव से परिपूर्ण हो जाता है।

इससे पहले करीब 15 कुंतल फूलों से केदारनाथ मंदिर को सजाया गया। करीब 2500 यात्री बीती रात केदारनाथ धाम पहुंच चुके थे, जिन्होंने तड़के कपाट खुलने पर बाबा केदार के दर्शन किए। आज पहले दिन देश-विदेश से लोग केदारनाथ के दर्शनों को पहुंचे। कपाट खुलने के समय सेना की जम्मू-कश्मीर लाइट इंफेंटरी के बैंड ने मधुर धुनें बजाई तो बाबा केदार के जयकारों के साथ श्रद्धालु झूम उठे। तड़के सूर्य की किरणों के साथ ही चारों ओर हिमाच्छादित चोटियां और केदारपुरी में हर ओर नजर आ रही बर्फ मनोहारी आभा बिखेरने लगी।  

हालांकि, जिला प्रशासन की ओर से की गई व्यापक व्यवस्थाओं के बावजूद इस वर्ष कपाट खुलने के मौके पर पिछले सालों की अपेक्षा कम यात्री धाम पहुंचे। बदरी-केदार मंदिर समिति के कार्याधिकारी एनपी जमलोकी ने बताया कि इस वर्ष केदारनाथ धाम में स्थानीय उत्पादों से बने प्रसाद को ही वितरित किया जा रहा है। स्थानीय समूहों (समितियों) से प्रतिदिन चौलाई से बने लड्डुओं का प्रसाद मंदिर सामिति खरीदेगी।

कपाट खुलने के अवसर पर पूर्व मुख्यमंत्री व निवर्तमान सांसद डॉ. रमेश पोखरियाल निशंक, मंदिर समिति के उपाध्यक्ष अशोक खत्री, गढ़वाल मंडलायुक्त डॉ. बीवीआरसी पुरुषोत्तम, मंदिर समिति के मुख्य कार्याधिकारी बीडी सिंह, मंदिर समिति सदस्य अरूण मैठाणी, पूर्व सदस्य श्रीनिवास पोस्ती आदि उपस्थित रहे। सुबह राज्यपाल बेबी रानी मौर्य भी बाबा केदारनाथ के दर्शन करने पहुंची।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.