Sunday, Jan 17, 2021

Live Updates: Unlock 8- Day 17

Last Updated: Sun Jan 17 2021 08:16 AM

corona virus

Total Cases

10,558,710

Recovered

10,196,184

Deaths

152,311

  • INDIA10,558,710
  • MAHARASTRA1,984,768
  • ANDHRA PRADESH1,648,665
  • KARNATAKA930,668
  • KERALA911,382
  • TAMIL NADU829,573
  • NEW DELHI631,884
  • UTTAR PRADESH595,142
  • WEST BENGAL564,098
  • ODISHA332,106
  • ARUNACHAL PRADESH325,396
  • RAJASTHAN313,425
  • JHARKHAND310,675
  • CHHATTISGARH290,084
  • TELANGANA290,008
  • HARYANA265,199
  • BIHAR256,991
  • GUJARAT252,559
  • MADHYA PRADESH247,436
  • ASSAM216,635
  • CHANDIGARH183,588
  • PUNJAB169,225
  • JAMMU & KASHMIR122,651
  • UTTARAKHAND93,777
  • HIMACHAL PRADESH56,521
  • GOA49,362
  • PUDUCHERRY38,477
  • TRIPURA33,035
  • MANIPUR27,155
  • MEGHALAYA12,866
  • NAGALAND11,709
  • LADAKH9,155
  • SIKKIM5,338
  • ANDAMAN AND NICOBAR ISLANDS4,963
  • MIZORAM4,293
  • DADRA AND NAGAR HAVELI3,368
  • DAMAN AND DIU1,381
Central Helpline Number for CoronaVirus:+91-11-23978046 | Helpline Email Id: ncov2019 @gov.in, ncov219 @gmail.com
kejriwal government told how many corona patients percent are outside in delhi hospitals rkdsnt

केजरीवाल सरकार ने बताया -दिल्ली के अस्पतालों में कितने फीसदी कोरोना मरीज बाहर के हैं?

  • Updated on 9/21/2020


नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन (Satyendra Jain) ने सोमवार को कहा कि शहर के अस्पतालों में भर्ती कोविड-19 के 30 फीसदी मरीज दूसरे राज्यों के हैं और उनमें से ज्यादातर निजी अस्पतालों के आईसीयू में हैं। उन्होंने कहा कि रोगियों की संख्या में वृद्धि के बीच, दिल्ली सरकार ने राज्य के बाहर से आए मरीजों की मौत का आंकड़ा अलग से एकत्र करने का फैसला किया है। 

फेसबुक ने घृणा फैलाने वाले भाषणों से निपटने के तरीके का बचाव किया

उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय राजधानी में देश में सबसे कम मृत्यु दर है। पिछले 10 दिनों के आंकड़ों के आधार पर, दिल्ली में मृत्यु दर 0.77 प्रतिशत है। उन्होंने संवाददाताओं से कहा, ‘‘दिल्ली के अस्पतालों में भर्ती होने वाले लगभग 30 फीसदी कोविड-19 मरीज महानगर से बाहर के हैं।’’

पर्यटकों के लिए ताजमहल खुला, हस्तशिल्प एंपोरियम के लिए करना होगा इंतजार

उन्होंने कहा, ‘‘बाहर से आने वाले लोग निजी अस्पतालों को प्राथमिकता देते हैं। वे पहले से ही अपना मन बना लेते हैं और सीधे इन चार-पांच अस्पतालों में जाते हैं, जिनके बारे में उन्होंने सुना होता है... जैसे कि मैक्स, अपोलो और फोर्टिंस इत्यादि। यही वजह है कि उन अस्पतालों में आईसीयू के बिस्तर भरे हुए हैं। 

NGO के पंजीकरण के लिए पदाधिकारियों के Aadhaar नंबर होंगे जरूरी

उन्होंने कहा, 'उनमें से ज्यादातर निजी अस्पतालों में आईसीयू बेड पर हैं। दिल्ली के अस्पतालों में ऐसे 1,500 मरीज भर्ती हैं।' हालांकि, मंत्री ने कहा कि वर्तमान में दिल्ली में लगभग 1,000 आईसीयू बेड उपलब्ध हैं। उन्होंने कहा कि पिछले कुछ दिनों में लगभग 1,500 गैर-आईसीयू बेड और 500 से अधिक आईसीयू बेड जोड़े गए हैं। उन्होंने कहा, 'खाली बेड की संख्या दिल्ली कोरोना ऐप पर उपलब्ध है... कुछ भी छुपाया नहीं जा रहा है।'

कोरोना के मद्देनजर Digital हुआ India Couture Week , दिख रहे फैशन के खास अंदाज

जैन ने कहा कि बाहर के रोगियों की मृत्यु से संबंधित आंकड़े अलग से एकत्र किए जा रहे हैं। पहले ऐसा नहीं होता था। मंत्री ने यह भी कहा कि प्लाज्मा की कोई कमी नहीं है। जरूरत पडऩे पर वे इसे लिवर और पित्त विज्ञान संस्थान से प्राप्त कर सकते हैं। रविवार को दिल्ली में कोविड-19 के मामलों की संख्या 2,46,711 हो गई, जबकि मृतकों की संख्या 4,982 हो गई। 

PayTM का आरोप- भारत में लीगल होने के बावजूद Google ने कैशबैक हटाने को किया मजबूर

 

 

 

 

यहां पढ़ें कोरोना से जुड़ी महत्वपूर्ण खबरें...

सुशांत मौत मामले में CBI ने दर्ज की FIR, रिया के नाम का भी जिक्र

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.