Wednesday, May 12, 2021
-->
kejriwal-govt-order-14-day-home-quarantine-mandatory-upon-return-from-kumbh-kmbsnt

दिल्ली में कोरोना बेकाबू, केजरीवाल सरकार का आदेश- कुंभ से लौटने पर 14 दिन का होम क्वारंटीन अनिवार्य

  • Updated on 4/18/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। देश की राजधानी दिल्ली में कोरोना वायरस का कहर टूटा है। यहां पर 24 घंटे में 24 हजार से ज्यादा केस सामने आए हैं और 167 लोगों की मौत हो गई है। ऐसे में केजरीवाल सरकार ने आदेश दिया है कि कुंभ से लौटने पर 14 दिन का होम क्वारंटीन अनिवार्य है। जो भी इस आदेश का पालन नहीं करेगा उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। दिल्ली में जिस तेजी से कोरोना बढ़ रहा है इस पर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भी चिंता व्यक्त की है। 

दिल्ली के अस्पतालों में बेडस् की कमी होने लगी है। ये बात शनिवार को खुद मुख्यमंत्री केजरीवाल ने भी मानी है। साथ ही उन्होंने कहा है कि अस्पतालों में ऑक्सीजन बेड्स के साथ रेमडीसिविर की भी कमी हो गई है। सीएम ने केंद्र सरकार से मदद की गुहार लगाई है। साथ ही दिल्ली की जनता को अस्पताल में  बेड्स की संख्या बढ़ाने का आश्वासन दिया है। 

लंबे इंतजार के डर से लोग एकत्र होकर जा रहे हैं वैक्सीनेशन के लिए

4 दिनों के अंदर बढ़ाएंगे 6 हजार बेड्स
सीएम केजरीवाल ने कहा है कि आने वाले 4 दिनों के अंदर वो 6 हजार बेड्स बढ़ा देंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि यमुना स्पोर्ट्स कंपलेक्स और कॉमनवेल्थ गेम में लगभग 1380 बेड का इंतजाम किया जा रहा है। राधा स्वामी सत्संग व्यास में शुरू में अभी हम 2500 बेड का इंतजाम कर रहे हैं। इसके तुरंत बाद 2500 और बेड का इंतजाम करेंगे।

होटल और बैंक्विट हॉल अस्पताल से अटैच 
कुछ दिन पहले से ही होटल और बैंक्विट हॉल को अस्पतालों के साथ अटैच किया जा रहा है। इस तरह से 2100 ऑक्सीजन बेड्स बनाए गए हैं। यह जानकारी अगले एक-दो दिन में दिल्ली को रोना ऐप पर भी आ जाएगी। एक तरफ से यह सभी अस्पताल का हिस्सा होंगे। 

फिर से लौटा Lockdown का दौर! घर में दुबके लोग और थम गई दिल्ली की सड़कें...

दिल्ली में 24 घंटे में 24 हजार से ज्यादा केस
बता दें कि शनिवार को कोरोना के अब तक के सर्वाधिक 24 हाजर 375 नए मामले सामने आए और 167 मरीजों की मौत हो गई। नए मामलों के साथ ही मौतों का भी यह अब तक का सबसे बड़ा आंकड़ा है। एक दिन पहले की तुलना में नए मामलों में 25.08 फीसदी का उछाल आया है। संक्रमण दर बढ़कर 24.5% हो गई है। जो पिछले वर्ष 17 जून के बाद की सर्वाधिक दर है। तब संक्रमण 29.82 फीसदी थी।

ये भी पढ़ें:

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.