kidnappers-kidnapped-buffaloes-in-madhya-pradesh

अजब MP की गजब कहानी, भैंस का अपहरण कर बदमाशों ने मांगी लाखों की फिरौती

  • Updated on 8/2/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। मध्य प्रदेश(Madhya Pradesh) के शाजापुर(Shajapur) जिले से एक ऐसा मामला सामने आया है, जिसके बारे में सुनकर आप भी हैरान रह जाएंगे। आपने अभी तक इंसानों के अपहरण और उन्हें मुक्त करने के लिए फिरौती की खबरें सुनी होंगी, लेकिन किसी जानवर के अपहरण की खबर शायद ही सुनी होगी। ऐसे में मध्य प्रदेश से हाल ही में एक मामला सामने आया है, जहां किसी इंसान का नहीं बल्कि एक जानवर का अपहरण हुआ है।

मामला शाजापुर के मुरादपुरा इलाके का है, जहां हाल ही में एक भैंस का अपहरण हो गया और यही नहीं भैंस का अपहरण करने वाले बदमाशों ने भैंस की मालकिन से फिरौती की मांग भी की है। 

ये हो सकते हैं Jio GigaFiber ब्रॉडबैंड प्लान्स, आपके लिए कौन सा है बेहतर

मालकिन ने पुलिस को सुनाई रिकॉर्डिंग
ऐसे में भैंसों के अपहरण की खबर ने उस वक्त जोर पकड़ लिया, जब भैंस की मालकिन अपनी शिकायत लेकर पुलिस स्टेशन पहुंची और अपहरणकर्ताओं(kidnappers) से अपनी भैंस को मुक्त कराने की गुहार लगाई। पहले तो महिला की बात सुनकर पुलिस भी हैरान रह गई, लेकिन जब मालकिन ने फिरौती को लेकर आए फोन की कॉल रिकॉर्डिंग सुनाई तो पुलिस भी मामले को लेकर असहाय सी नजर आई।

विराट को कप्तानी से हटाना भारत का सबसे बेवकूफी भरा कदम होगाः शोएब अख्तर

28 जून को हुईं थी चोरी
भैंसों के चोरी होने की सूचना देते हुए महिला ने बताया कि, बीते 28 जून की रात को मेरे फार्म हाउस(farm house) से चार भैंसे चोरी हो गईं। चोरी हुई चार भैंसों में से एक जख्मी हालत में थी, जिसके पैर में काफी चोट लगी थी। उसका इलाज चल रहा था, लेकिन चोर उसे भी साथ ले गए। भैंस चोरी होने के बाद मैंने प्रभु गुर्जर को फोन किया तो उसने कहा कि मैंने आपको पहले ही भैंसो के चोरी होने की खबर दी थी। इसी दौरान मैंने सारी बातों की रिकॉर्डिंग भी कर ली। 

बॉल टेंपरिंग विवाद के बाद पहले अंतरराष्ट्रीय मैच में ही स्मिथ ने जड़ा शतक, सचिन-कोहली छूटे पीछे

पुलिस स्टेशन में दर्ज कराई शिकायत
इसके बाद भैंसों का अपहरण करने वालों का फोन आया और उन लोगों ने मुझसे फिरौती की मांग की है। जिसके बाद मैंने पुलिस को इसकी सूचना दी और शाजापुर पुलिस स्टेशन(Police Station) में भैंसों के अपहरण की शिकायत दर्ज कराई है। वहीं मामला दर्ज होने के बाद पुलिस ने कॉल रिकॉर्डिंग के आधार पर दो लोगों को पूछताछ के लिए पकड़ा था, जिन्होंने मामले में शामिल होने की बात भी कुबूली है, लेकिन इसके बावजूद अभी तक भैंसें पुलिस के हाथ नहीं आ पाई हैं।
 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.