Monday, Jun 27, 2022
-->
Kiran Mazumdar-Shaw accuses BJP Karnataka government doing communal resistance rkdsnt

किरण मजूमदार-शॉ ने BJP की कर्नाटक सरकार पर लगाया साम्प्रदायिक प्रतिरोध का आरोप

  • Updated on 3/31/2022

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। कर्नाटक में ‘बढ़ते धार्मिक मतभेदों’ को सुलझाने के बायोकॉन प्रमुख किरण मजूमदार-शॉ के अनुरोध की पृष्ठभूमि में मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने बृहस्पतिवार को समाज के सभी वर्गों के लोगों से अपील की कि वे किसी भी सामाजिक मुद्दे को लेकर सार्वजनिक मंच पर जाने को लेकर संयम बरतें, क्योंकि इन मुद्दों को विचार विमर्श के जरिये सुलझाया जा सकता है। 

केजरीवाल आवास तोड़फोड़ मामला: दिल्ली पुलिस ने 8 लोगों को किया गिरफ्तार 

 

उन्होंने कहा कि कर्नाटक शांति और प्रगति के लिए जाना जाता है और इसे कायम रखने में हर किसी से सहयोग देने को कहा। उन्होंने मजूमदार-शॉ की उस चिंता की ओर भी लोगों का ध्यान आकृष्ट किया, जिसमें उन्होंने (मजमूदार-शॉ ने) कहा है कि हमेशा से समावेशी आर्थिक विकास का रास्ता अपनाने वाले राज्य में यदि सूचना प्रौद्योगिकी, जैव प्रौद्योगिकी और विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी (आईटी/बीटी) सेक्टर साम्प्रदायिक हो जाते हैं तो यह वैश्विक नेतृत्व को तहस-नहस कर देगा।  

AAP विधायक ने CM केजरीवाल के आवास पर हमले की जांच को लेकर कोर्ट का किया रुख

उन्होंने मुख्यमंत्री को टैग करते हुए ट्वीट किया, ‘‘कर्नाटक ने हमेशा आर्थिक विकास को बढ़ावा दिया है और हमें साम्प्रदायिक प्रतिरोध की अनुमति नहीं देनी चाहिए। यदि आईटीबीटी क्षेत्र साम्प्रदायिक हो गया तो यह हमारे वैश्विक नेतृत्व को तहस-नहस कर देगा। बी एस बोम्मई कृपया धर्म के आधार पर विभाजन के मुद्दे का निपटारा करें।’’ उन्होंने यह ट्वीट सालाना हिन्दू मेले के दौरान गैर-हिन्दू कारोबारियों और विक्रेताओं को मंदिर के आसपास कारोबार करने देने से इनकार किये जाने की घटनाओं के संदर्भ में किया था। 

फडणवीस के खिलाफ याचिकाएं दाखिल करने वाले वकील के घर पर ED का छापा

ट्वीट के संदर्भ में पूछे गये एक सवाल के जवाब में बोम्मई ने कहा, ‘‘राज्य में कई मुद्दे विचार के लिए आए हैं। यूनीफॉर्म के मुद्दे का फैसला उच्च न्यायालय ने कर दिया है। अन्य मुद्दों पर संबंधित लोगों से मेरी अपील है कि हम अपनी मान्यताओं के आधार पर अपनी जिन्दगी इतने सालों से काट रहे हैं। प्रत्येक व्यक्ति को शांति-व्यवस्था स्थापित करने में सहयोग करना चाहिए।’’ 

राहुल गांधी ने महंगाई, बेरोजगारी को लेकर पीएम मोदी पर साधा निशाना

उन्होंने कहा, ‘‘कर्नाटक शांति एवं प्रगति के लिए जाना जाता है और प्रत्येक व्यक्ति को संयम बरतना चाहिए तथा यह देखना चाहिए कि यह (शांति व्यवस्था) प्रभावित न हो। इसलिए (ऐसे मुद्दे पर) सार्वजनिक मंच पर जाने से पहले हर किसी को संयम बरतना चाहिए।’’ भाजपा राष्ट्रीय महासचिव सीटी कुमार ने मंगलवार को हलाल फुड को ‘आर्थिक जिहाद’ करार दिया था। 

आम्रपाली की रुकी हुई परियोजनाओं को पूरा करने के लिए बैंक देंगे 1,500 करोड़ रुपये का कर्ज

comments

.
.
.
.
.