Tuesday, Nov 30, 2021
-->
Kisan Morcha called Rail Roko Movement successful warned BJP Modi yogi govt again rkdsnt

संयुक्त किसान मोर्चा ने रेल रोको आंदोलन को बताया सफल, सरकार को फिर चेताया

  • Updated on 10/18/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। संयुक्त किसान मोर्चा (एसकेएम) ने सोमवार को दावा किया कि उसके छह घंटों के रेल रोको आंदोलन के दौरान कई स्थानों पर उसके नेताओं को हिरासत में लिया गया और उन्हें गिरफ्तार किया गया। मोर्चा ने कहा कि लखीमपुर खीरी हिंसा मामले को लेकर केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा की बर्खास्तगी और उनकी गिरफ्तारी की मांग को लेकर हजारों किसानों ने शांतिपूर्वक आंदोलन में भाग लिया। 

किसान आंदोलन को लेकर राज्यपाल मलिक ने चेतावनी के साथ मोदी सरकार को सुनाई खरी-खरी

मोर्चा ने आगाह किया है कि यदि लखीमपुर खीरी हत्याकांड में न्याय की उसकी मांग नहीं मानी गई तो आंदोलन को और तेज किया जाएगा। केंद्र के तीन कृषि कानूनों के खिलाफ आंदोलन की अगुवाई कर रहे मोर्चा ने एक बयान में कहा कि 290 से अधिक ट्रेनों की आवाजाही कथित तौर पर प्रभावित हुईं और 40 से अधिक ट्रेनें को रद्द कर दिया गया। 

केजरीवाल सरकार ने ‘रोजगार बाजार 2.0’ का पोर्टल तैयार करने के लिए जारी किया टेंडर

एसकेएम ने अपने बयान में दावा किया, 'उत्तर प्रदेश में, पुलिस ने कई स्थानों पर किसान नेताओं को हिरासत में ले लिया। मध्य प्रदेश में, पुलिस ने कई स्थानों जैसे गुना, ग्वालियर, रीवा, बामनिया (झाबुआ में) और अन्य स्थानों पर प्रदर्शनकारियों को गिरफ्तार किया।' बयान में कहा गया है कि तेलंगाना में हैदराबाद के काचीगुड़ा में भी किसान प्रदर्शनकारियों को गिरफ्तार किया गया।  

शिवसेना ने NCB की कार्यशैली की न्यायिक जांच के लिए सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया

बयान में दावा किया गया है, 'संयुक्त किसान मोर्चा के रेल रोको आह्वान पर किसानों ने भारत भर में सैकड़ों स्थानों पर आज छह घंटे तक रेलवे पटरियों और प्लेटफार्मों पर कब्जा कर लिया। भारी बारिश के बावजूद हजारों की संख्या में पुरुष और महिलाएं रेल रोको आंदोलन को सफल बनाने के लिए आगे आए।’’ मोर्चा ने कहा कि गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा की बर्खास्तगी और गिरफ्तारी की मांग को लेकर छह घंटे तक प्रदर्शन किया गया ताकि लखीमपुर खीरी हत्याकांड में न्याय सुनिश्चित किया जा सके। महिलाओं समेत प्रदर्शनकारी किसानों ने अजय मिश्रा की गिरफ्तारी की मांग की तथा भारतीय जनता पार्टी नीत सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। 

दिल्ली दंगा : निर्देशों को नजरअंदाज करने से नाराज कोर्ट ने दिल्ली पुलिस पर लगाया जुर्माना 

किसानों के आंदोलन को देखते हुए रेलवे स्टेशनों पर सुरक्षाबलों की तैनाती की गयी थी। उत्तर रेलवे जोन के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी (सीपीआरओ) ने कहा कि रेल रोको आंदोलन के कारण इस जोन में 150 स्थान प्रभावित हुए और 60 ट्रेनों की आवाजाही बाधित हुयी। उत्तर-पश्चिम रेलवे (एनडब्ल्यूआर) जोन में, राजस्थान और हरियाणा के कुछ हिस्सों में रेल यातायात बाधित हुआ और 18 ट्रेनों को रद्द कर दिया गया वहीं 10 ट्रेनों को आंशिक रूप से रद्द कर दिया गया और एक के मार्ग में परिवर्तन किया गया। अधिकारी ने बताया कि उत्तर रेलवे जोन में प्रभावित ट्रेनों में चंडीगढ़-फिरोजपुर एक्सप्रेस भी शामिल है। लुधियाना से इसका निर्धारित प्रस्थान समय सुबह सात बजे का था, लेकिन फिरोजपुर-लुधियाना खंड पर व्यवधान के कारण ट्रेन वहीं फंसी हुयी थी।      

डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह को हत्या मामले में उम्रकैद की सजा

 

comments

.
.
.
.
.