Monday, May 23, 2022
-->
Know in which assembly seat of Ghaziabad 4 BJP are contesting elections

जानिए गाजियाबाद की किस विधानसभा सीट पर 4 भाजपाई लड़ रहे चुनाव

  • Updated on 1/20/2022

नई दिल्ली/टीम डिजीटल। गाजियाबाद की शहर विधानसभा सीट इन चुनावों में काफी दिलचस्प होने जा रही है। जहां सत्तासीन पार्टी भाजपा का मुकाबला विपक्षी नेताओं से कम और अपने ही बागी नेताओं से ज्यादा है। इस सीट से प्रदेश सरकार के स्वास्थ्य राज्य मंत्री अतुल गर्ग दुबारा ताल ठोंक रहे हैं। उनके खिलाफ सपा-रालोद गठबंधन ने विशाल वर्मा और कांग्रेस ने सुंशात गोयल को उतारा है। बसपा के प्रत्याशी के तौर केके शुक्ला हैं। जिन्होंने हाल ही में भाजपा छोडक़र बसपा का दामन थामा है। इसके अलावा भाजपा के ही सदस्य रहे आशुतोष गुप्ता व रानीदेव श्री ने भी निर्दलीय प्रत्याशी के तौर पर पर्चा भर दिया है। यानि एक सीट पर 4 भाजपाई एक दूसरे को टक्कर दे रहे हैं। 

भाजपा के लिए इस सीट पर अचानक इतने सारे बागियों का खड़ा होने के पीछे दरअसल वजह लाइनपार क्षेत्र है। लाइनपार क्षेत्र जहां 2 लाख से ज्यादा वोटर हैं, वहां मौजूदा विधायक का जबर्दस्त विरोध है। जिसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि विधायक के खिलाफ खड़े होने वाले तीनों भाजपाई इसी लाइनपार से ताल्लुक रखते हैं। 

वीरवार को एक प्रेसवार्ता में भाजपा प्रत्याशी अतुल गर्ग ने कहा कि टिकट की वजह से जो पार्टी छोडक़र गए हैं, उन्हें 10 मार्च को सच्चाई का पता चल जाएगा। लेकिन अपने ही बागियों से सबसे ज्यादा खतरा है अतुल गर्ग को ही है। 

जहां तक लाइनपार क्षेत्र की समस्याओं की बात करें तो यहां डिग्री कॉलेज से लेकर गंगाजल और सरकारी अस्पताल जैसी मांग लंबे समय से जनता कर रही थी। इसके अलावा शहर को यहां से जोडऩे वाले धोबीघाट आरओबी का कछुआ गति से हो रहा निर्माण भी लोगों को पसंद नहीं आ रहा। हालांकि शहर विधानसभा में वोटों के लिहाज से लाइनपार क्षेत्र का अहम रोल है। किंतु अभी तक यहां से चुनकर कोई नेता विधानसभा नहीं पहुंचा है। लिहाजा इसबार थोड़ी उम्मीद जगी है कि इस सीट से शायद कोई प्रत्याशी जीतकर विधायक बने और क्षेत्र की समस्याओं की ओर ध्यान दे। 
 

comments

.
.
.
.
.