Monday, Nov 29, 2021
-->
know the mean of vaccine afficacy rate corona vaccine efficacy rate sohsnt

Corona vaccine: क्या आप जानते हैं कोरोना वैक्सीन की एफिकेसी रेट का मतलब?

  • Updated on 1/16/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। कोरोना वायरस (Coronavirus) से जूझ रहे भारत के लिए नया साल वैक्सीन के रूप में एक नई उम्मीद लेकर आया है। भारत में 16 जनवरी यानी आज से वैक्सीनेशन अभियान शुरू हो चुका है। अधिकतर कंपनियों का दावा है कि उनकी कोविड वैक्सीन 95% प्रभावकारी है, आइए जानतें हैं यहां 95% प्रभावकारी का किया मतलब है?

Coronavirus: देश में अब तक 1 लाख 52 हजार से ज्यादा की मौत, आज से वैक्सीनेशन शुरू

कोविशील्ड की एफिकेसी दर 62 फीसदी
भारत में कोरोना से जंग में कोविशील्ड और कोवैक्सीन मोर्चा संभाल रही हैं। वैक्सीनेशन अभियान के तहत सीरम इंस्टिट्यूट की कोविशील्ड की दो डोज दिए जाने पर एफिकेसी दर 62 फीसदी बताई गई है। वहीं दूसरी ओर भारत बायोटेक की एफिकेसी रेट सार्वजनिक ना किए जाने पर काफी सवाल खड़े किए गए हैं, ऐसे में जानते हैं कि आखिर एफिकेसी रेट का मतलब क्या है और कैसे निर्धारित किया जाता है।

दिल्ली सरकार के सारे कर्मचारियों को अब आना होगा दफ्तर, तत्काल प्रभाव से आदेश लागू

इन वैक्सीन का एफिकेसी रेट भी जानें
सबसे पहले जानतें है कि किस वैक्सीन का एफिकेसी रेट कितना है। हम यहां अगर Pfizer और BoiNtech की बात करें तो इन कंपनियों  की वैक्सीन का एफिकेसी रेट 95 प्रतिशत तक बताया गया है। इसके अलावा अमेरिका की Moderna और रूस की Sputnik का एफिरेसी रेट 90 से 94.5 प्रतिशत तक बताया गया है।

सरकार ने वैक्सीन ड्राइव के लिए मांगा मतदाता डेटा, चुनाव आयोग ने जताई सहमति

इस आधार पर तय किए जाते हैं आंकड़े
वैक्सीन के एफिकेसी होने का मतलब यह है कि इस टीके का जिन लोगों के ग्रुप पर प्रयोग किया गया, उनमें से कितने लोगों पर इसका प्रभाव देखने को मिला। इन लोगों की तुलना उन लोगों से कि जाती है जिन्हें ये वैक्सीन नहीं दी गई है। आसान शब्दों में समझें तो हमें वैक्सीनेशन के बाद यह पता चलता है कि जिन लोगों पर इसका इस्तेमाल किया गया है उनके ऊपर इसका कितना असर हुआ। साथ ही पता चलता है कि वैक्सीन के बाद संक्रमण से बचने में कितने प्रतिशत मदद मिली है। इसी आधार पर वैक्सीन के प्रभावकारी होने के आंकड़े तैयार किए जाते हैं।

दिल्ली: कोरोना वैक्सीनेशन से प्रभावित नहीं होगा शिशु टीकाकरण, ये है सरकार का प्लान

वहीं दूसरी ओर देश में आज कोरोना वायरस महामारी के खिलाफ निर्णायक चरण में प्रवेश कर चुका है। इससे पहले पीएम ने ट्वीट कर कहा कि कल 16 जनवरी को देश स्तर पर कोविड-19 टीकाकरण की शुरुआत होगी। सुबह साढ़े 10 बजे अभियान आरंभ होगा। पीएमओ ने कहा कि यह दुनिया का सबसे बड़ा टीकाकरण कार्यक्रम होगा। इसकी शुरुआत के लिए सारी तैयारियां हो चुकी है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने राष्ट्रव्यापी टीकाकरण अभियान की तैयारियों की समीक्षा की और स्वास्थ्य मंत्रालय के निर्माण भवन परिसर में बनाए गए विशेष कोविड-19 नियंत्रण कक्ष का जायजा लिया।

यहां पढ़े कोरोना से जुड़ी बड़ी खबरें...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.