Monday, Oct 25, 2021
-->
know-where-most-dengue-larvae-are-found

जानिए, कहां मिलता है सबसे अधिक डेंगू लार्वा

  • Updated on 9/18/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। डेंगू, मलेरिया के मामलें लगातार सामने आ रहे है। वहीं, इसकी रोकथाम को लेकर स्वास्थ्य विभाग की ओर से लगातार प्रयास भी किए जा रहा है। इसी कड़ी में जिले में लार्वा खोज अभियान की शुरूआत की गई है। शनिवार को पहले दिन गोविंदपुरम में चलाए गए अभियान के दौरान मलेरिया विभाग की टीमों को 56 स्थानों पर डेंगू का लार्वा मिला है। सबसे ज्यादा लार्वा उस पानी में मिला है, जो पक्षियों के लिए छत पर बर्तनों में रखा गया था। इसके अलावा गमला, कूलर और पुराने टायरों में भी लार्वा मिला है।

संक्रामक रोग विभाग की ओर से लार्वा खोज अभियान शुरु किया गया है। अभियान के पहले दिन विभाग की 12 टीमों ने सिविल डिफेंस, नगर निगम और डेरा सच्चा सौदा की टीमों के साथ गोविंदपुरम और कविनगर के कुछ हिस्से में लार्वा की खोज की। इस दौरान 1532 घरों में जल जमाव की जांच की गई। इनमें से 56 घरों में टीमों को डेंगू का लार्वा मिला। मलेरिया इंस्पेक्टर नरेंद्र कुमार ने बताया कि जिन घरों में लार्वा मिला है, सभी को नोटिस दिया गया है।

उन्होंने बताया कि पक्षियों के लिए छतों पर खुले बर्तनों में रखे गए पानी में सबसे ज्यादा लार्वा के मामले मिले। नरेंद्र कुमार ने बताया कि लोगों को इस बारे में जागरूक किया गया है कि घर में कहीं भी जल जमाव ना होने दें। किसी बर्तन या कबाड़ में साफ  पानी रुकने पर तीन से चार दिनों में ही उसमें लार्वा पनपने लगता है। राजनगर एक्सटेंशन में 6 स्थानों पर लार्वा मिला। इसके अलावा वैशाली और कौशांबी में भी 14 स्थानों पर लार्वा मिले हैं।

डीएसओ डॉ. आरके गुप्ता ने बताया कि डेंगू का मच्छर 100 मीटर तक उड़ता है। जिस स्थान पर मच्छर पनपा उससे 50 से 60 घरों तक मच्छर जा सकता है। ऐसे में एक मरीज के घर के आसपास 100 घरों में जल जमाव और लार्वा की जांच कर रहा है।

शनिवार को डेंगू के 11 और स्क्रब टाइफस के 4 मरीज मिले
जिले में शनिवार को डेंगू के 11 नए मरीज मिले। इसके साथ ही स्क्रब टाइफस के 4 और मलेरिया का एक मरीज मिला। जिले में डेंगू के 136, स्क्रब टाइफस के 38 और मलेरिया के मरीजों की संख्या 14 हो गई है। डेंगू के 6 मरीजों को अस्पताल में भर्ती करवाया गया जबकि स्क्रब टाइफस और मलेरिया सभी नए मरीजों को अस्पतालों में भर्ती करवाया गया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.