Wednesday, Jan 26, 2022
-->
kp sharma oli expelled from the nepali communist party pragnt

अध्यक्ष पद छीनने के बाद कम्युनिस्ट पार्टी से भी बाहर हुए नेपाल के PM केपी ओली, ऐसे हुआ बंटाधार

  • Updated on 1/25/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। नेपाल (Nepal) के कार्यवाहक प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली (KP Sharma Oli) को कम्युनिस्ट पार्टी (Communist Party) से हटा दिया गया है। साथ ही उनकी सदस्यता भी रद्द कर दी गई है। ओली के खिलाफ पार्टी में काफी समय से बगावत के सुर बुलंद हो रहे थे।

लद्दाख गतिरोध: करीब ढाई महीने बाद 9वें दौर की वार्ता, सैनिकों को पीछे हटाने पर हुई चर्चा

प्रचंड ने निकाली थी सरकार विरोधी रैली 
इससे पहले नेपाली कम्युनिस्ट पार्टी (NCP) के अलग गुट के नेता पुष्प कमल दहल प्रचंड ने शुक्रवार को राजधानी काठमांडू में सरकार विरोधी रैली निकाली थी। इस रैली में उन्होंने कहा था कि प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली द्वारा संसद को अवैध तरीके भंग किए जाने से देश की संघीय लोकतांत्रिक प्रणाली के लिए गंभीर खतरा पैदा हो गया है। उन्होंने कहा था कि ओली ने पार्टी के संविधान और प्रक्रियाओं का उल्लंघन किया है।

लद्दाख की ठंड देख भागे 10 हजार चीनी सैनिक, भारतीय जवानों पर नहीं हो रहा असर

नेपाली कम्युनिस्ट पार्टी से निष्कासित किए गए ओली 
सत्ताधारी नेपाल कम्युनिस्ट पार्टी के पुष्प कमल दहल 'प्रचंड' के नेतृत्व वाले गुट ने रविवार को प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली को पार्टी की सदस्यता से निष्कासित कर दिया। मीडिया में प्रकाशित खबरों से यह जानकारी प्राप्त हुई। द हिमालयन टाइम्स की खबर के अनुसार पूर्व प्रधानमंत्री प्रचंड और माधव कुमार नेपाल के नेतृत्व वाले गुट की स्थाई समिति की बैठक में यह निर्णय लिया गया।

ट्रैक्टर रैली पर पाकिस्तान की नापाक साजिश का पर्दाफाश, दिल्ली पुलिस ने ट्रेस किए 308 ट्विटर हैंडल

इससे पहले ओली पार्टी आलाकमान को अपने हालिया फैसलों के बारे में स्पष्टीकरण देने में विफल रहे थे। प्रचंड के नेतृत्व वाले गुट ने सोमवार को प्रधानमंत्री के बलुवातार स्थित आवास पर एक पत्र भेजा था। इससे पहले अलग हुए गुट ने ओली को पार्टी के अध्यक्ष पद से हटा दिया था। 

आधी दुनिया को चाहिए Made In India वैक्सीन, जानिए इसके पीछे की वजह

नेपाल के PM ने किया धन्यवाद
बता दें कि नेपाल के प्रधानमंत्री के. पी. शर्मा ओली ने कोविड-19 टीके की 10 लाख खुराक भेजने के लिए भारत सरकार को धन्यवाद दिया। ओली ने ट्वीट किया कि नेपाल को कोविड टीके की दस लाख खुराक भेजने के लिए मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी और सरकार तथा भारत के लोगों को धन्यवाद देता हूं। यह सहायता ऐसे समय दी गई है जब भारत को अपने लोगों को भी टीका लगाना है। 

PM मोदी ने पड़ोसी देशों को Free Vaccine देकर चीन की दादगिरी को खत्म करने की शुरू की पहल

पीएम मोदी ने किया ये जवाब
ओली के ट्वीट का जवाब देते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट किया, 'धन्यवाद प्रधानमंत्री के. पी. शर्मा ओली।' कोविड-19 महामारी से मुकाबले के लिए नेपाल के लोगों की सहायता करने के प्रति भारत प्रतिबद्ध है। टीका भारत में निर्मित है और महामारी को वैश्विक स्तर पर रोकने में मददगार साबित होगा। बांग्लादेश में भारतीय उच्चायोग ने ट्वीट किया कि भारत के लोगों और सरकार की तरफ से बांग्लादेश के लोगों और सरकार को 'मेड इन इंडिया' कोविड-19 के टीके की 20 लाख खुराक सौंपी गईं। भारतीय उच्चायुक्त वी दुरईस्वामी ने बांग्लादेश के विदेश मंत्री डा. ए के अब्दुल मोमिन और स्वास्थ्य मंत्री जाहिद मलिक को ये खेप सौंपी।

यहां पढ़ें अन्य बड़ी खबरें...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.