Wednesday, Apr 14, 2021
-->
krishna-who-was-separated-from-the-family-in-ardh-kumbh-musrnt

अर्द्धकुंभ में परिवार से बिछड़ी कृष्णा, कुंभ में मिली, परिवार छोड़ चुका था उम्मीद

  • Updated on 4/7/2021

हरिद्वार/योगेश योगी। आपने कुंभ में बिछड़ने की कहानियां तो खूब सुनी होंगी लेकिन यह किस्सा जरा हटके है। कृष्णा और उसके परिवार के लिए हरिद्वार कुंभ मिलन की घड़ी बनकर आया है। यूपी के सिद्धार्थनगर जिले की रहने वाली कृष्णा देवी अर्द्धकुंभ में अपने परिवार से बिछड़ गई थी। अब पांच साल बाद कुंभ में कृष्णा देवी को उसका परिवार मिल गया है।

कुंभ मेला पुलिस की ओर से सुरक्षा के दृष्टिगत बाहरी एवं संदिग्ध व्यक्तियों का सत्यापन अभियान चलाया जा रहा है।11 जनवरी को ऋषिकेश के त्रिवेणी घाट परिसर में निवास कर रही  कृष्णा देवी पत्नी ज्वाला प्रसाद निवासी  ग्राम नदेपार जिला  सिद्धार्थ नगर उत्तर प्रदेश का  सत्यापन किया गया था। सत्यापन की एक प्रति फोटो सहित महिला के मूल निवास स्थान जिला सिद्धार्थ नगर उत्तर प्रदेश भेजी गई थी।

उत्तराखंड पुलिस की ओर से भेजे गए की यूपी के सिद्धार्थ नगर जिले की पुलिस द्वारा जांच की गई। महिला के परिजनों से संपर्क किया गया। सामने आया कि महिला कृष्णा देवी वर्ष 2016 में अर्द्धकुंभ हरिद्वार में स्नान के लिए घर से निकली थी, परंतु घर वापस नहीं लौटी। परिजनों ने हरिद्वार,अयोध्या बनारस, प्रयागराज आदि सभी जगह पर कृष्णा देवी को ढूंढा लेकिन उनका कोई सुराग नहीं मिल पाया था। 

थक हार कर बैठ चुके थे परिजन
परिजनों की ओर से थाना जोगिया उदयपुर जिला सिद्धार्थ नगर में कृष्णा देवी की गुमशुदगी दर्ज कराई गई थी।काफी  खोज करने पर कृष्णा देवी नहीं मिली तो परिजन थक हार कर मिलने की आशा छोड़ चुके थे। उन्हें बिल्कुल भी उम्मीद नहीं थी कि एक दिन कृष्णा देवी अचानक उनके सामने आ जाएगी।

माता को लेने पहुंचे पति, पुत्र - पुत्री
पुलिस की ओर से कृष्णा देवी के  पुत्र दिनेशवर पाठक से संपर्क कर उनकी माता के सही सलामत ऋषिकेश में होने की सूचना दी गई। उनके परिवार की खुशी का ठिकाना न रहा। महिला के पति ज्वाला प्रसाद, पुत्र दिनेश्वर पाठक और पुत्री उमा उपाध्याय  उन्हें लेने कुंभ मेले के थाना ऋषिकेश पहुंचे। पुलिस की ओर से आवश्यक कार्रवाई  के पश्चात बुधवार को कृष्णा देवी  को परिजनों के सुपुर्द किया गया। परिजनों ने कुंभ मेला पुलिस का आभार जताया।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.