Thursday, Aug 11, 2022
-->

Google पर लगा बड़ा आरोप, इस तरह से कर रहा है महिला कर्मियों के साथ भेदभाव

  • Updated on 4/10/2017

Navodayatimesनई दिल्ली/टीम डिजिटल। सबको हर जानकारी प्रदान कराने वाले गूगल पर सवाल खड़े किए हैं। गूगल को अमेरिका के श्रम विभाग ने कठघरे में खड़ा किया है। गूगल पर  अमेरिका के श्रम विभाग ने आरोप लगाया है कि वह अपनी महिला कर्मचारियों को पुरुष कर्मियों की तुलना में कम वेतन देता है।

IAS अशोक खेमका ने फिर कायम की एक नई मिसाल, Social Media से भेजा समन

श्रम विभाग के मुताबिक यहां पुरूष कर्मियों की तुलना में महिला कर्मियों को कम तनख्वाह दी जाती है। श्रम विभाग के एक स्थानीय निदेशक जेनेट विपर के मुताबिक गूगल के सभी कर्मचारियों को देखा जाए तो वहां महिलाओं के साथ वेतन में भेदभाव किया जा रहा है।इस बात को लेकर श्रम विभाग के पास सबूत भी हैं, जो इस बात को साबित करते हैं कि  कि किस तरह से गूगल में महिलाओं के साथ वेतन को लेकर भेदभाव किया जा रहा है। वहीं, गूगल ने इन आरोपों को गलत बताते हुए श्रम विभाग की आलोचना की है।

केजरीवाल के विवादित बोल, धृतराष्ट्र बन गया है चुनाव आयोग-दुर्योधन की कर रहा मदद

गूगल की ओर से कहा गया है कि  श्रम विभाग को बताना चाहिए कि उसके पास कंपनी से जुड़े डेटा कहां से आए। गूगल पर इस तरह के आरोप पहली बार लगे हैं। गूगल में कुल 70,000 कर्मचारी काम करते हैं, इनमें से लगभग एक तिहाई महिलाएं हैं। जबकि  अमेरिकी श्रम विभाग सिलिकन वैली में महिला और पुरुष कर्मचारियों के बीच वेतन से जुड़े असमानता के मामलों को लेकर विस्तृत जांच कर रहा है। वहीं, श्रम विभाग ने इसी साल जनवरी में गूगल पर आरोप लगाया था कि वह अपने कर्मचारियों की तनख्वाह से जुड़ी जानकारियां ऑडिट के लिए मुहैया नहीं कर रहा। इसी बात को लेकर श्रम विभाग ने गूगल पर केस भी दर्ज किया गया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.