Sunday, Apr 18, 2021
-->
lakha singh open challenge to delhi police kmbsnt

लक्खा सिंह का पुलिस को ओपन चैलेंज- रैली करने आ रहा हूं दिल्ली

  • Updated on 2/25/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। नए कृषि कानूनों (New Farm Laws) के खिलाफ किसानों का विरोध प्रदर्शन 92 दिन से लगातार जारी है। वहीं गणतंत्र दिवस के दिन ट्रैक्टर रैली की आड़ में हुई हिंसा के मामले में पुलिस लगातार फरार आरोपी की तलाश में है। उधर एक लाख के इनामी गैेंगस्टर लक्खा सिंह सिधाना (Lakha Singh Sidhana) ने दिल्ली पुलिस को चुनौती दी है। सिधाना ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट से एक वीडियो जारी किया है जिसमें उसने कहा है कि बठिंडा में उसकी रैली सफल रही, अब वो दिल्ली में रैली करने आ रहा है। 

बता दें कि 23 फरवरी को लक्खा सिंह बठिंडा की रैली में नजर आया था। इस रैली से पहले ही लक्खा ने एक वीडियो जारी करके 23 फरवरी को किसान सभा में ज्यादा से ज्यादा लोगों को शामिल होने के लिये कहा था। इस वीडियो में लक्खा ने केंद्र सरकार के साथ-साथ राकेश टिकैत को भी निशाने पर लिया। उन्होंने कहा कि आज किसान आंदोलन को वैसे लोग नेतृत्व कर रहे जो पंजाबी नहीं है। 

Toolkit Case: शांतनु की अग्रिम जामनत याचिका पर जवाब देने के लिए दिल्ली पुलिस ने कोर्ट से मांगा वक्त

दीप सिद्धू के अकाउंट से भी जारी हुआ वीडियो
वहीं दूसरी ओर लाल किला हिंसा मामले में गिरफ्तार एक्टर दीप सिद्धू के अकाउंट से भी एक वीडियो जारी किया गया है।इसमें दावा किया जा रहा है कि दीप सिद्धू ने किसान आंदोलन के दौरान कोई भड़काऊ भाषण नहीं दिया। जबकि पुलिस ने असली गुनाहगार को गिरफ्तार नहीं कर रही है।

इस वीडियो में दीप सिद्धू ने खुद को निर्दोष बताया है और किसान नेताओं के भड़काऊ भाषण दिखाए हैं। इस वीडियो में दीप सिद्धू प्रदर्शनकारियों को समझाता हुआ दिखाई दे रहा है। वीडियो में भारतीय किसान यूनियन के प्रवक्ता राकेश टिकैत, किसान नेता गुरनाम चढ़ूनी और एक लाख के इनामी एक्टिविस्ट लखबीर सिंह उर्फ लक्खा सिधाना का भड़काऊ भाषण है।

दीप सिद्धू के सोशल मीडिया अकाउंट से वीडियो जारी, टिकैत समेत इन नेताओं के भड़काऊ भाषण दिखाए

वीडियो में किसान नेता राकेश टिकैत का बयान
वीडियो में किसान नेता राकेश टिकैत का बयान है, जिसमें वो ट्रैक्टर रोकने पर दिल्ली पुलिस को धमकी देते नजर आ रहे हैं। गैंगस्टर से सोशल एक्टिविस्ट बना लक्खा सिधाना वीडियो में ट्रैक्टर परेड का तय रूट तोडऩे की ओर इशारा कर रहा है। वह कह रहा है कि हमारे ट्रैक्टर भी रिंग रोड की ओर जाएंगे। कीर्ति किसान संगठन के राजिंदर सिंह दीप वीडियो में कहते दिख रहे हैं कि 26 जनवरी को सारे ट्रैक्टर नाकों पर खड़े कर दो और इस दिन मोदी की चर्चा न हो, बल्कि मोदी की गर्दन पर ट्रैक्टर चढऩे की चर्चा हो।

वहीं, हरियाणा के किसान नेता गुरनाम सिंह चढ़ूनी इस वीडियो में सरकार को चेतावनी देते नजर आ रहे हैं। वो कह रहे हैं कि 26 तारीख को अपनी तैयारी कर ट्रैक्टरों के साथ आ जाएं। जबरदस्ती बैरिकेड्स तोड़कर दिल्ली में घुसेंगे। सरकार गोली मारे-लाठी मारे, जो करना है कर ले। 26 को फाइनल मैच होगा।

ये भी पढ़ें:

comments

.
.
.
.
.