Tuesday, Jan 18, 2022
-->
lakhimpur kheri incident ajay kumar mishra teni meet amit shah speculation intensifies rkdsnt

लखीमपुर खीरी कांड : अजय मिश्रा टेनी ने अमित शाह से की मुलाकात, अटकलें तेज

  • Updated on 10/6/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। केंद्रीय मंत्री अजय कुमार मिश्रा ने बुधवार को गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात की। सूत्रों ने यह जानकारी दी। उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी में चार किसानों को कथित तौर पर कुचलने के लिए बेटे के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज होने के बाद से मिश्रा की गृह मंत्री से यह पहली मुलाकात है। इसके बाद उन्हें हटाए जाने को लेकर अटकलें तेज हो गई हैं। सूत्रों ने बताया कि केंद्रीय गृह राज्यमंत्री मिश्रा नॉर्थ ब्लॉक में पहली मंजिल पर स्थित अपने कार्यालय में आए और करीब आधे घंटे तक वहां रहे। कुछ आधिकारिक कामकाज करने के बाद मिश्रा नॉर्थ ब्लॉक से रवाना हो गए। इसके बाद वह शाह के आवास पर गए, जहां वह करीब आधे घंटे तक रहे। 

RSS प्रमुख के इशारे पर देश को आर्थिक गुलामी की ओर ले जा रही है मोदी सरकार : कांग्रेस

ऐसा माना जा रहा है कि मिश्रा ने गृह मंत्री को उत्तर प्रदेश में अपने गृह जिले लखीमपुर खीरी में रविवार को हुई घटना के बारे में बताया। विपक्ष इस घटना को लेकर केंद्रीय गृह राज्यमंत्री मिश्रा को हटाए जाने की मांग कर रहा है। हालांकि, मिश्रा ने इस घटना में अपने बेटे की संलिप्तता से इनकार किया है। इस बीच, बृहस्पतिवार को होने वाले उस कार्यक्रम को ‘‘रद्द’’ कर दिया गया है, जिसमें मिश्रा को बतौर मुख्य अतिथि शामिल होना था तथा कार्यक्रम को संबोधित करना था। इस कार्यक्रम का निमंत्रण मीडिया को भी दिया गया था। 

मोदी कैबिनेट ने 11 लाख रेलकर्मियों के लिए बोनस को दी मंजूरी

पुलिस अनुसंधान एवं विकास ब्यूरो (बीपीआरडी) के एक मीडिया अधिकारी ने बताया कि कार्यक्रम को अभी रोक दिया गया है और निमंत्रण को रद्द समझा जाए। यह कार्यक्रम सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों की जेलों के प्रमुख के सातवें राष्ट्रीय सम्मेलन से संबंधित था। दो दिवसीय इस कार्यक्रम के शुक्रवार को विदायी सत्र के लिए नित्यानंद राय मुख्य अतिथि थे। राय भी केंद्रीय गृह राज्य मंत्री हैं। पुलिस ने रविवार की घटना में किसानों की मौत को लेकर अजय कुमार मिश्रा के पुत्र आशीष मिश्रा और सात अन्य के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज किया है। 

लखीमपुर खीरी घटना : जयंत चौधरी बोले- सच को दबा रही है योगी सरकार, लगाया जाए राष्ट्रपति शासन

केंद्रीय मंत्री ने किसान संगठनों के उन आरोपों से इनकार किया कि उनका बेटा एक कार में बैठा हुआ था। उन्होंने कहा कि उनके पास यह दिखाने के लिए सबूत है कि उनका बेटा कहीं और हो रहे किसी कार्यक्रम में गया हुआ था। मिश्रा का कहना है कि भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं को लेकर जा रही एक गाड़ी तब पलट गयी जब प्रदर्शनकारियों ने उस पर पथराव किया। किसान उस गाड़ी के नीचे आ गए और उनकी मौत हो गयी। प्रदर्शनकारियों ने कार में सवार चार लोगों को बाहर निकाला और पीट-पीटकर उनकी हत्या कर दी।

गुजरात दंगा : मोदी को SIT की क्लीन चिट के खिलाफ जाकिया की याचिका पर SC करेगा सुनवाई


 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.