Tuesday, Nov 30, 2021
-->
Lakhimpur Kheri martyrs Kalash Yatra inspiring thousands of citizens says Kisan Morcha rkdsnt

लखीमपुर खीरी के ‘शहीदों’ की ‘कलश यात्रा’ हजारों नागरिकों को कर रही प्रेरित : किसान मोर्चा

  • Updated on 10/24/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। संयुक्त किसान मोर्चा (एसकेएम) ने रविवार को दावा किया कि ‘लखीमपुर खीरी हिंसा के शहीदों’ को श्रद्धांजलि अर्पित करने के लिए आयोजित की गई ‘कलश यात्रा’ हजारों नागरिकों को प्रेरित कर रही है जो केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा को गिरफ्तार करने की मांग कर रहे हैं।

राहुल बोले- पेट्रोल के दामों पर टैक्स डकैती बढ़ती जा रही है, कहीं चुनाव हों तो... 

उल्लेखनीय है कि तीन अक्टूबर को उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी में हुई हिंसा के मामले में केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा का पुत्र आशीष मिश्रा इस समय जेल में है। इस घटना में 4 किसानों सहित 8 लोगों की मौत हो गई थी। तीन कृषि कानूनों को वापस लेने सहित विभिन्न मांगों को लेकर आंदोलन कर रहे किसान संगठनों के साझा मंच एसकेएम ने यहां जारी बयान में कहा कि विभिन्न राज्यों और जिलों में कई ‘शहीद किसान अस्थि कलश यात्राएं’ चल रही हैं।

अमरिंदर की तरह चन्नी ने भी किसानों के लिए कुछ नहीं किया : AAP

बयान में कहा गया, ‘‘...और इस यात्रा में बडी संख्या में लोग लखीमपुर खीरी के 5 शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित करने के लिए आगे आ रहे हैं। तमिलनाडु में यह यात्रा कल्लाकुरुचि जिले के उल्लुदुरपेट से गुजरी और बाद में पेराम्बलुर में दाखिल हुई।’’  

गवाह का दावा : एनसीबी अधिकारी ने आर्यन खान की रिहाई के लिए मांगे 25 करोड़

एसकेएम के मुताबिक 26 अक्टूबर को वेदरानयम में बंगाल की खाडी में अस्थियों को विसर्जित करने से पहले यात्रा 22 जिलों से गुजरेगी। इसी तरह की यात्रा उत्तर प्रदेश के प्रयागराज, गोरखपुर और कुशीनगर जिलों से गुजरेगी। हरियाणा और उत्तराखंड के कई गांवों और टोल प्लाजा से भी यात्रा गुजरेगी। एसकेएम ने बताया, ‘‘हिमाचल प्रदेश में शहीदों की अस्थियों का विसर्जन यमुना घाट पर पोंटा साहिब में किया जाएगा। पंजाब में यह यात्रा मालवा, माझा और दोआब से गुजर रही है। इसे अच्छी प्रतिक्रिया मिली है और न्याय की मांग तेज हो रही है।’’ 

उर्वरक की किल्लत को लेकर भाजपा सरकार पर बरसे अखिलेश, बोले हाशिये पर किसान

comments

.
.
.
.
.