Sunday, Jan 24, 2021

Live Updates: Unlock 8- Day 24

Last Updated: Sun Jan 24 2021 02:56 PM

corona virus

Total Cases

10,655,641

Recovered

10,316,472

Deaths

153,378

  • INDIA10,655,641
  • MAHARASTRA2,006,354
  • ANDHRA PRADESH1,648,665
  • KARNATAKA935,478
  • KERALA911,382
  • TAMIL NADU834,171
  • NEW DELHI633,739
  • UTTAR PRADESH598,445
  • WEST BENGAL567,714
  • ODISHA334,150
  • ARUNACHAL PRADESH325,396
  • RAJASTHAN316,485
  • JHARKHAND310,675
  • CHHATTISGARH296,326
  • TELANGANA293,056
  • HARYANA267,075
  • BIHAR259,766
  • GUJARAT258,687
  • MADHYA PRADESH253,114
  • ASSAM216,976
  • CHANDIGARH183,588
  • PUNJAB171,733
  • JAMMU & KASHMIR123,946
  • UTTARAKHAND95,586
  • HIMACHAL PRADESH57,189
  • GOA49,362
  • PUDUCHERRY38,646
  • TRIPURA33,035
  • MANIPUR27,155
  • MEGHALAYA12,866
  • NAGALAND11,709
  • LADAKH9,155
  • SIKKIM6,068
  • ANDAMAN AND NICOBAR ISLANDS4,993
  • MIZORAM4,351
  • DADRA AND NAGAR HAVELI3,377
  • DAMAN AND DIU1,381
Central Helpline Number for CoronaVirus:+91-11-23978046 | Helpline Email Id: ncov2019 @gov.in, ncov219 @gmail.com
lalji tandon kamal nath jyotiraditya scindia mp floor test mp congress bjp

मध्यप्रदेश: राज्यपाल ने कमलनाथ सरकार को दिए निर्देश, विधानसभा में कल होगा फ्लोर टेस्ट

  • Updated on 3/15/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। मध्यप्रदेश (Madhaya pradesh) में चल रही राजनीतिक उथल-पुथल के बीच राज्यपाल लालजी टंडन (Lalji Tandon) ने मुख्यमंत्री कमलनाथ (kamalnath) को सोमवार को राज्यपाल के अभिभाषण के तत्काल बाद विश्वास प्रस्ताव पर मतदान कराने के निर्देश दिए हैं। राजभवन सूत्रों ने बताया कि राज्यपाल ने पत्र भेजकर शनिवार मध्यरात्रि के आसपास कमलनाथ को ये निर्देश दिए हैं। उन्होंने बताया कि टंडन ने निर्देश दिए हैं, मध्यप्रदेश विधानसभा का सत्र 16 मार्च 2020 को प्रात:11 बजे प्रारंभ होगा और राज्यपाल के अभिभाषण के तत्काल बाद एकमात्र कार्य विश्वास प्रस्ताव पर मतदान होगा।

मध्यप्रदेश: पूर्व CM शिवराज सिंह चौहान ने राज्यपाल लालजी टंडन से की मुलाकात

विश्वासमत मतविभाजन के आधार पर बटन दबाकर ही होगा
इसके अलावा, राज्यपाल ने निर्देश दिए हैं, विश्वासमत मतविभाजन के आधार पर बटन दबाकर ही होगा और अन्य किसी तरीके से नहीं किया जाएगा। उन्होंने कहा है कि विश्वासमत की संपूर्ण प्रक्रिया की वीडियोग्राफी विधानसभा स्वतंत्र व्यक्तियों से कराएगी। राज्यपाल ने कहा है कि उपरोक्त संपूर्ण कार्यवाही हर हाल में 16 मार्च 2020 को प्रारम्भ होगी और यह स्थगित, विलंबित या निलंबित नहीं की जाएगी। राज्यपाल ने ये निर्देश संविधान के अनुच्छेद 174 सहपठित 175 (2) एवं अपनी अन्य संवैधानिक शक्तियों का प्रयोग करते हुए दिए हैं। 

कोरोना वायरस की जांच के बिना मध्य प्रदेश में दाखिल नहीं हो सकेंगे विधायक

त्यागपत्र 10 मार्च को भेजे गए
उन्होंने बताया कि राज्यपाल ने इस पत्र में यह भी कहा, मुझे सूचना मिली है कि मध्यप्रदेश विधानसभा के 22 विधायकों ने अपना त्यागपत्र विधानसभा अध्यक्ष को प्रेषित किया है। मुझे भी इन विधायकों ने पृथक-पृथक त्यागपत्र 10 मार्च को भेजे हैं और इन्हीं विधायकों ने अपने-अपने पत्र 13 मार्च द्वारा विधानसभा अध्यक्ष के समक्ष पेश होने के दौरान सुरक्षा प्रदान करने का अनुरोध किया है। 22 में से छह विधायक जो आपकी सरकार में मंत्री थे, जिन्हें आपकी अनुशंसा पर मंत्री पद से हटाया गया था, उनका त्यागपत्र विधानसभा अध्यक्ष ने शनिवार को स्वीकार कर लिया।      

MP: सिंधिया गुट के मंत्री- विधायक थोड़ी देर में पहुंचेंगे भोपाल एयरपोर्ट, धारा 144 लागू

ज्योतिरादित्य सिंधिया ने मंगलवार को कांग्रेस से दिया था इस्तीफा
राज्यपाल ने कहा है, मुझे प्रतीत होता है कि आपकी सरकार ने सदन का विश्वास खो दिया है और आपकी सरकार अल्पमत में है। यह स्थिति अत्यंत गंभीर है। इसलिए संवैधानिक रुप से अनिवार्य एवं प्रजातांत्रिक मूल्यों की रक्षा के लिए आवश्यक हो गया है कि 16 मार्च को मेरे अभिभाषण के तत्काल पश्चात आप विधानसभा में विश्वासमत हासिल करें। उल्लेखनीय है कि कांग्रेस की उपेक्षा से परेशान होकर ज्योतिरादित्य सिंधिया ने मंगलवार को कांग्रेस की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे दिया था और वह बुधवार को भाजपा में शामिल हो गये। 

उनके साथ ही मध्यप्रदेश के छह मंत्रियों सहित 22 कांग्रेस विधायकों ने इस्तीफा दे दिया था, जिनमें से अधिकांश उनके कट्टर समर्थक हैं। इन 22 विधायकों में से 19 बेंगलुरू में एक रिसॉर्ट में है, जबकि तीन विधायकों का अब तक कोई पता-ठिकाना नहीं है। इससे प्रदेश में कमलनाथ के नेतृत्व वाली कांग्रेस सरकार गिरने के कगार पर पहुंच गई है। 

comments

.
.
.
.
.