Thursday, Sep 23, 2021
-->
land worth rs 2 crore sold for rs 18 crore in span of 10 minutes says aap kmbsnt

राम जन्मभूमि घोटाला: 2 करोड़ की जमीन 10 मिनट के अंतराल में 18 करोड़ की कैसे बिकी- AAP

  • Updated on 6/14/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। राम जन्मभूमि घोटाले को लेकर आम आदमी पार्टी लगातार ट्रस्ट पर सवाल उठा रही है। इसके साथ ही इसमें भारतीय जनता पार्टी की मिलीभगत होने का आरोप भी लगाया जा रहा है। आज AAP के राज्यसभा सांसद संजय सिंह और दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर सवाल उठाया है कि दो करोड़ की जमीन को 10 मिनट के अंतराल में 18 करोड़ में कैसे खरीदा गया? 

AAP सांसद ने राम जन्म भूमि ट्रस्ट के चंपत राय पर लगाया घोटाले का आरोप

2 करोड़ की जमीन को 10 मिनट के अंतराल में 18 करोड़ रुपेय की कैस?
मनीष सिसोदिया ने कहा कि 2 करोड़ की जमीन को 10 मिनट के अंतराल में 18 करोड़ रुपेय में खरीदा गया है। इसके सारे कागजात इस बात की पुष्टि कर रहे हैं। पहले जमीन की कीमत 2 करोड़ थी और महज 10 मिनट में साढ़े 16 करोड़ रुपये कीमत बढ़कर उसको साढ़े 18 करोड़ में खरीदा गया। इसमें सबसे चौंकाने वाली बात ये है कि दोनो ही डीलों में गवाह कॉमन है। एक नाम रामजन्मभूमि ट्रस्ट के सदस्य अनिल मिश्रा का है तो दूसरा नाम अयोध्या के मेयर ऋषिकेश उपाध्याय का है। 

10 मिनट के अंतराल में देश के 115 करोड़ हिंदुओं के साथ धोखा- सिसोदिया
सिसोदिया ने कहा कि इस डील में शामिल 5 लोगों ने 10 मिनट के अंतराल में देश के 115 करोड़ हिंदुओं के साथ धोखा किया गया है। लोगों की राम मंदिर में बड़ी आस्था है। लोग श्रद्धा भाव से इसके लिए दान कर रहे हैं। लोगों के चंदे के पैसे से इस मंदिर का निर्माण होने जा रहा है और लोग बेसब्री से इसका इंतजार कर रहे हैं। हमें जमीन खरीदने से कोई दिक्कत नहीं है, दिक्कत इस खरीद में हुए भ्रष्टाचार से है। 

गुजरात दौरे के लिए तैयार केजरीवाल, चुनावी मंथन पर होगा जोर

संजय सिंह ने बीजेपी से मांगा जवाब 
वहीं सांसद संजय सिंह ने बीजेपी पर जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी के मंत्रियों, नेताओं ने मंदिर निर्माण के लिए चंदा मांगा। अब इस चंदे के पैसे से भ्रष्टाचार किया जा रहा है। इसमें बीजेपी के मेयर भी शामिल है। बीजेपी सामने आकर इस बात का जवाब दे कि लोगों की आस्था के साथ इतना बड़ा खिलवाड़ आखिर क्यों किया जा रहा है? 

विपक्ष के आरोपों पर ट्रस्ट की सफाई

विपक्ष के आरोपों पर ट्रस्ट ने सफाई दी है। आरोपों पर श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव और वीएचपी के नेता चंपत राय की ओर से एक बयान जारी किया। राय ने कहा, " मंदिर परिसर के पूर्व और पश्चिम दिशा में यात्रा को सुलभ बनाने औऔर मंदिर परिसर की सुरक्षा के लिए गृहस्थों के मकान खरीदने जरूरी हैं। जिनसे मकान खरीदा जाएगा, उन्हें पुनर्वास के लिए जमीनें दी जाएंगी। इस काम के लिए भूमि की खरीदारी की जा रही है।" 

उन्होंने कहा कि "ट्रस्ट की ओर से जो भी जमीनें खरीदी गई हैं, वो खुले बाजार से कम कीमत पर खरीदी गई हैं।" उन्होंने कहा, "जिस जमीन खरीद को लेकर आरोप लग रहे हैं, उस जमीन का वर्षों पहले जिस कीमत पर रजिस्टर्ड एग्रीमेंट हुआ था, उसे 18 मार्च 2021 को विक्रेताओं ने पहले बैनामा कराया और उसके बाद ट्रस्ट के साथ एग्रीमेंट किया।" चंपत राय ने कहा, लोग राजनीति विद्वेष से प्रेरित होकर भ्रम फैला रहे हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.