Friday, Dec 09, 2022
-->
lashkar terrorist talib hussain associated with political party for some time: dgp dilbag singh

लश्कर आतंकवादी तालिब हुसैन कुछ वक्त के लिए एक राजनीतिक दल से जुड़ा था: डीजीपी दिलबाग सिंह

  • Updated on 7/4/2022

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। जम्मू कश्मीर के पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) दिलबाग सिंह ने सोमवार को कहा कि लश्कर-ए-तैयबा का आतंकवादी तालिब हुसैन शाह कुछ समय के लिए एक राजनीतिक दल से जुड़ा रहा था और उसने खुद को मीडियाकर्मी के तौर पर भी पेश किया था। सिंह ने कहा कि ऐसे तत्व अपनी राष्ट्र-विरोधी गतिविधियों को अंजाम देने के लिए इस तरह की कोशिश करते रहते हैं और पुलिस उन्हें गिरफ्तार करने के लिए प्रतिबद्ध है।

केजरीवाल गुजरात में बोले- जनता 27 साल के BJP शासन से उब चुकी है और कांग्रेस...

डीजीपी रियासी जिले के माहोर इलाके में संवाददाताओं से बातचीत कर रहे थे, जहां वह दो वांछित लश्कर आतंकवादियों को गिरफ्तार कराने में पुलिस की मदद करने वाले ग्रामीणों को बधाई देने पहुंचे थे। ग्रामीणों ने रविवार सुबह तुकसोन ढोक में दोनों आतंकवादियों- शाह और पुलवामा निवासी उसके साथी फैसल अहमद डार को पकड़कर पुलिस के हवाले कर दिया था। शाह राजौरी में कुछ विस्फोट की घटनाओं का मास्टरमाइंड था।

‘अग्निपथ’ के विरोध में AAP कार्यकर्ताओं का भिक्षाटन, PM मोदी के नाम पर भेजे 420 रुपये के चेक 

सोशल मीडिया पर सामने आईं कुछ तस्वीरों में तालिब शाह को भारतीय जनता पार्टी के कुछ नेताओं के साथ देखा गया। एक तस्वीर में उसे भाजपा की जम्मू कश्मीर इकाई के अध्यक्ष रवींद्र रैना के साथ देखा गया। इस तस्वीर में रैना नौ मई को शाह को एक गुलदस्ता दे रहे हैं और पार्टी नेता शेख बशीर द्वारा जारी एक पत्र भी दे रहे हैं, जिसमें उसे पार्टी के अल्पसंख्यक मोर्चा (जम्मू प्रांत) के आईटी और सोशल मीडिया प्रभारी की जिम्मेदारी दी गयी।  

नोम चोम्स्की, राजमोहन गांधी ने की उमर खालिद को जेल से रिहा करने की मांग 

    शाह के भाजपा से जुड़े रहने के बारे में पूछे गये सवाल के जवाब में डीजीपी ने कहा, ‘‘इस तरह के तत्व हमेशा ऐसी जगहों का सहारा लेने की कोशिश करते रहते हैं जहां वे अपनी (राष्ट्र-विरोधी) गतिविधियां जारी रख सकें। खुशी की बात है कि वह लंबे समय तक पार्टी में नहीं रहा। वह कुछ समय के लिए पार्टी से जुड़ा था।’’     

कांग्रेस ने उदयपुर की घटना के आरोपी को ‘भाजपा का सदस्य’ बताया, BJP ने किया खंडन

उन्होंने भाजपा में शामिल होने की शाह की मंशा के बारे में पूछे जाने पर कहा, ‘‘उससे पूछताछ की जा रही है और हम पड़ताल पूरी होने पर ब्योरा साझा करेंगे।’’ डीजीपी ने कहा, ‘‘यह केवल एक राजनीतिक दल से जुड़ा मसला नहीं है। वह (शाह) मीडियाकर्मी के तौर पर भी खुद को पेश करता था। वह पहला मीडियाकर्मी नहीं है, जिसे गिरफ्तार किया गया क्योंकि हमने अतीत में ऐसे कई लोगों को गिरफ्तार किया है और भविष्य में भी ऐसी गिरफ्तारियां होंगी।’’     

विधानसभा चुनाव के मद्देनजर AAP ने जम्मू कश्मीर ईकाई को किया भंग

  •  

दोनों आतंकियों को काबू में करने वाले ग्रामीणों के लिए दो लाख रुपये के नकद इनाम की घोषणा करने वाले सिंह ने कहा कि पाकिस्तान और उसकी एजेंसियां आतंकी संगठनों के माध्यम से जम्मू में आतंकवाद को पुनर्जीवित करने की लगातार कोशिश कर रही हैं, लेकिन ‘‘जम्मू पुलिस ने उनकी कोशिशों को नाकाम करने में सराहनीय भूमिका निभाई है।’’ 

comments

.
.
.
.
.