Wednesday, May 12, 2021
-->
left ruled kerala govt clarified its stand regarding corona virus covid 19 vaccines rkdsnt

कोरोना टीकों को लेकर लेफ्ट शासित केरल सरकार ने भी साफ किया अपना रुख

  • Updated on 1/3/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। भारत के दवा नियंत्रक द्वारा भारत बायोटेक के कोविड-19 टीका और ऑक्सफोर्ड के कोविड-19 टीका कोविशील्ड को सीमित आपातकालीन इस्तेमाल के लिए मंजूरी दिए जाने के बाद केरल (Kerala) की सरकार ने रविवार को कहा कि केंद्र के हामी भरते ही राज्य इसका वितरण करने के लिए तैयार है। इस बीच कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और तिरूवनंतपुरम के सांसद शशि थरूर ने कोवैक्सीन को मंजूरी देने की आलोचना की और कहा कि यह समय पूर्व और खतरनाक है। 

केजरीवाल ने विपक्ष के सवालों के बीच कोरोना टीकों पर वैज्ञानिकों को दी बधाई

थरूर ने ट्वीट किया, ‘‘कोवैक्सीन का अभी तक तीसरे चरण का परीक्षण नहीं हुआ है। मंजूरी समय से पहले दी गई है और यह खतरनाक हो सकता है। डॉ. हर्षवर्धन को इस पर स्पष्टीकरण देना चाहिए। पूरा परीक्षण होने तक इसके इस्तेमाल से बचना चाहिए। इस बीच भारत एस्ट्राजेनेका के टीके से शुरुआत कर सकता है।’’
किसानों से 4 जनवरी वार्ता को लेकर कृषि मंत्री तोमर बोले- भविष्यवक्ता नहीं हूं 

राज्य की स्वास्थ्य मंत्री के. के. शैलजा ने कहा कि केंद्र की मंजूरी मिलते ही राज्य टीका का वितरण करने के लिए तैयार है।उन्होंने मीडिया से कहा, ‘‘हम केंद्र सरकार के निर्देश के मुताबिक टीके का इस्तेमाल करेंगे। केंद्र की मंजूरी मिलते ही हम टीका के वितरण के लिए पूरी तरह तैयार हैं। आईस लाइन्ड रेफ्रिजरेटर (आईएलआर), कोल्ड बॉक्स आदि तैयार हैं और राज्य में टीके के वितरण का स्थान भी तय कर लिया गया है।’’

विपक्षी दलों के नेताओं ने कोरोना वैक्सीन के सीमित इस्तेमाल पर जताई चिंता

कोवैक्सीन और थरूर की आलोचना के बारे में पूछने पर मंत्री ने कहा कि राज्य को अभी तक टीके पर आधिकारिक सूचना नहीं मिली है और इस पर वह बाद में टिप्पणी करेंगी।

दिल्ली की सीमाओं पर आंदोलनरत किसानों की बारिश ने बढ़ाई दिक्कतें

 

 

 

यहां पढ़े कोरोना से जुड़ी बड़ी खबरें...

 

comments

.
.
.
.
.