Friday, Sep 30, 2022
-->
lekhpal recruitment exam paper leaked in up 21 arrested salwar gang members

यूपी में लेखपाल भर्ती परीक्षा का पेपर लीक, साल्वर गैंग सदस्यों समेत 21 गिरफ्तार

  • Updated on 7/31/2022

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। उत्तर प्रदेश पुलिस की स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) ने रविवार को प्रदेश के विभिन्न जिलों में आयोजित राजस्व लेखपाल की भर्ती परीक्षा में अभ्यर्थियों से मोटी रकम लेकर साल्वर बैठाने एवं अन्य माध्यमों से परीक्षा की शुचिता भंग करने वाले अभ्र्यिथयों सहित कुल 21 लोगों को गिरफ्तार कर लिया। पकड़े गये लोगों में बिहार के निवासी कुछ सॉल्वर भी शामिल हैं।     मुख्य विपक्षी समाजवादी पार्टी (सपा) ने लेखपाल भर्ती परीक्षा का पेपर भी लीक हो जाने का दावा किया है।    एसटीएफ के आधिकारिक सूत्रों ने यहां बताया कि लेखपाल परीक्षा में अनुचित माध्यमों का इस्तेमाल करते हुए कुल 21 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। एसटीएफ की प्रयागराज इकाई ने साल्वर गिरोह के सरगना विजय कांत पटेल, उसके साथी दिनेश कुमार यादव और सोनू कुमार को गिरफ्तार किया।  

सत्येंद्र प्रकाश को पत्र सूचना कार्यालय का नया प्रधान महानिदेशक बनाया गया 

  •  

 उन्होंने बताया कि पटेल ने राजस्व लेखपाल परीक्षा में कुल सात अभ्र्यिथयों से 10-10 लाख रूपये लिये थे और सभी को ब्लूटूथ ईयर बड एवं ब्लूटूथ डिवाइस देकर अभ्यर्थी पुष्पेन्द्र को वाराणसी के उदय प्रताप इण्टर कॉलेज स्थित परीक्षा केन्द्र में और जयसिंह पटेल को कानपुर नगर स्थित श्रीमती माया देवी बालिका इण्टर कालेज को उनके परीक्षा केन्द्र पर भेजा।       उनसे कहा गया कि वे डिवाइस ऑन रखें और सभी प्रश्नों के उत्तर सभी अभ्र्यिथयों के अलग-अलग मोबाइल से उनके ब्लूटूथ डिवाइस के माध्यम से बताये जायेंगे।    सूत्रों ने बताया कि विजय कान्त पटेल की सूचना पर पुष्पेन्द्र और जयसिंह पटेल को भी गिरफ्तार किया जा चुका है।    उन्होंने बताया कि अयोध्या, अलीगढ़, आगरा, बरेली, मेरठ, गोरखपुर, प्रयागराज, मुरादाबाद, झाँसी, कानपुर नगर, लखनऊ और वाराणसी के कुल 501 परीक्षा केन्द्रों पर रविवार को पूर्वाह्न 10 बजे से अपराह्न 12 बजे तक राजस्व लेखपाल पद पर भर्ती की मुख्य परीक्षा आयोजित हुई।  

आम आदमी पार्टी के नगर पार्षद की गोली मारकर हत्या, जांच में जुटी पुलिस

  •  

 इस बीच, सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने लेखपाल भर्ती परीक्षा का पेपर भी लीक हो जाने का दावा करते हुए एक ट््वीट में कहा‘‘आज लेखपाल भर्ती परीक्षा का पेपर भी लीक हो गया। अब तो लगता है कि अभ्र्यिथयों का ये आरोप सच है कि ये सब भाजपा सरकार की ही चाल है जिससे कोई भी परीक्षा पूरी न हो पाए और लोगों को नौकरी न मिले, जिससे युवा, पूँजीपतियों के यहाँ श्रमिक-चपरासी बन के रह जाएं। भाजपा वेतन-पेंशन के $खलिाफ़ है।‘‘    एसटीएफ द्वारा जारी बयान के मुताबिक बल की टीमों ने वाराणसी से दिलीप गुप्ता, प्रयागराज से दिनेश कुमार साहू और कानपुर से करण कुमार को गिरफ्तार किया है। इसके अलावा लखनऊ से रूपेश कुमार के स्थान पर परीक्षा दे रहे पटना निवासी सॉल्वर राजू कुमार, लखनऊ से ही अभ्यर्थी अमित यादव के स्थान पर परीक्षा दे रहे पटना निवासी सॉल्वर संजय कुमार यादव तथा मुरादाबाद से अभ्यर्थी संदीप कुमार और उसके स्थान पर परीक्षा दे रहे सॉल्वर मोहित को गिरफ्तार किया गया।

इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन को पेट्रोल की बिक्री पर प्रति लीटर 10 रुपये का नुकसान 

  •  

   इसके अलावा मुरादाबाद से ही अभ्यर्थी आर्यन के स्थान पर परीक्षा दे रहे सॉल्वर रविंद्र कुमार को गिरफ्तार किया गया है। साथ ही साल्वरों को लाने और उन्हें बैठाने के आरोप में नीरज नामक व्यक्ति को भी गिरफ्तार किया गया है। इसके अलावा वाराणसी के चेतगंज स्थित एक परीक्षा केंद्र से अभ्यर्थी कृष्णा यादव के स्थान पर परीक्षा दे रहे सॉल्वर राज नारायण यादव को गिरफ्तार किया गया है।    एसटीएफ ने बरेली के बिहारीपुर सिविल लाइन स्थित एक परीक्षा केंद्र से अभ्यर्थी रिंकू के स्थान पर परीक्षा दे रहे बिहार के नालंदा जिले के निवासी राजीव कुमार को गिरफ्तार किया। इसके अलावा लेखपाल भर्ती कराने के नाम पर धोखाधड़ी करने के एक मामले में सलीम नामक व्यक्ति को भी गिरफ्तार किया गया है।     पकड़े गए गैंग लीडर, उसके साथियों, अभ्यर्थियों तथा सॉल्वर के संबंध में स्थानीय पुलिस द्वारा कार्यवाही की जा रही है और गैंग के अन्य सदस्यों के बारे में सूचना एकत्र की जा रही है। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.