बाथरूम में कैद हुआ गुलदार, कुत्ते का पीछा करते हुए पहुंचा था बस्ती में

  • Updated on 1/12/2019

नई टिहरी/ब्यूरो। चंबा ब्लॉक की सारज्यूला पट्टी के लामकोट गांव में शुक्रवार सांय को एक गुलदार कुत्ते का पीछा करते समय कुत्ते के साथ ही घर के बाथरूम में कैद हो गया। चार घंटे तक चलाए गए रेस्क्यू ऑपरेशन में वन विभाग के कर्मियों ने गुलदार को पिंजरे में कैद कर जंगल में छोड़ दिया। इस दौरान कुत्ते को भी चोटें आई हैं।

शुक्रवार सांय करीब साढ़े छह बजे जंगल से लामकोट गांव की ओर आए नर गुलदार और पालतू कुत्ते के बीच खूनी संघर्ष चला। कुत्ता अपनी जान बचाने के लिए किसी तरह गुलदार के चुंगल से छूटकर बाथरूम में घुसा कि पीछे से गुलदार बाथरूम में घुस गया।

Navodayatimes

हरीश को भाजपाइयों ने गंगा पूजन के बाद दिखाए काले झंडे, हंगामा

इस दौरान अचानक दरवाजा बंद हो गया। घर में मौजूद गजेंद्र पंवार को जब इसका पता चला तो उन्होंने साहस का परिचय देते हुए बाथरूम के दरवाजे पर बाहर से कुंडी लगा दी और वन विभाग को सूचना दी। वन क्षेत्राधिकारी आशीष डिमरी ने बताया कि रेस्क्यू टीम को सात बजे मौके पर भेजा गया।

वन विभाग की टीम ने रेस्क्यू अभियान चलाते हुए बाथरूम के बाहर पिंजरा लगाकर चार घंटे बाद गुलदार को पिंजरे में कैद कर लिया। बताया कि गुलदार को रात में ही जंगल में सुरक्षित छोड़ दिया गया। उन्होंने बताया कि गुलदार से संघर्ष में कुत्ता भी काफी घायल हुआ है। रेस्क्यू टीम में वन दरोगा शशिभूषण उनियाल, जसवंत पंवार, लक्ष्मण सजवाण, प्रेमलाल डोभाल, दीपक रजवार, परमानंद डोभाल आदि शामिल रहे।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.