Thursday, Aug 18, 2022
-->
loudspeaker-removed-from-bijnor-jaat-community-threatned-to-leave-village

बिजनौर में देवस्थल से लाउडस्पीकर हटाने पर हुआ हंगामा, जाटों ने दी गांव छोड़ने की धमकी

  • Updated on 5/10/2018

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। उत्तर प्रदेश में देवस्थल पर लाउडस्पीकर हटाने को लेकर हंगामा हो गया है।  बिजनौर जिले के गर्वपुर गांव में देवस्थल से लाउडस्पीकर हटाने पर तनाव फैल गया इस घटना का विरोध करते हुए जाटों ने पलायन की धमकी दी है। फिलहाल एहतियातन गांव में पुलिस फोर्स तैनात है। काफी समय से गांव के जाट लंबे समय से देवस्थल के पास मंदिर बनाने की मांग कर रहे हैं और करीब 35 साल ये वो जमीन सरकारी जमीन है। गर्वपुर गांव में हिंदू- मुस्मिल दोनों ही रहते है। 

इंतजार में लालू यादव! प्रशासनिक कारणों से अटकी पैरोल

नगीना के पुलिस क्षेत्राधिकारी महेश कुमार ने बताया कि देवस्थल में लाउडस्पीकर लगाने की अनुमति वार्षिक रुप से दी जाती है। अगस्त में तीन दिन के लिए ये अनुमति होती है। उन्होंने आगे बताया कि फरवरी में बिना किसी अनुमति के देवस्थान पर लाउडस्पीकर लगाया गया तो अब एक हफ्ते पहले उसे फिर हटवा दिया गया।

एसडीएम गजेंद्र सिंह ने बताया कि जाट समुदाया चाहता है कि पूरे साल मंदिर पर लाउडस्पीकर लगा रहे। एसडीएम  ने बताया कि इस मामले में उन्होंने उच्चाधिकारियों से चर्चा की और जाट समुदाय के लोगों से कहा कि उन्हें फैसले की जानकारी 12 मई तक दी जाएगी। 

सहारनपुर में तनाव: भीम आर्मी के जिलाध्यक्ष के भाई की गोली मारकर हत्या

गर्वपुर गांव के प्रधान शकील अहमद ने कहा कि हमारी शिकायत पर जिला प्रशासन ने लाउडस्पीकर हटवाया। साथ ही उन्होंने कहा कि देवस्थल के पास सरकारी जमीन है उसपर कब्जा करने के लिए लोग मंदिर बनाना चाहते है। इसकी शिकायत करने पर जिला प्रशासन ने मंदिर से लाउडस्पीकर हटवा दिया।

उन्होंने बताया कि जाटों ने कहा है कि उनकी मांग पूरी नहीं की गई तो वो मकान और घर बेचकर पलायन की धमकी दे रहे है। ग्राम प्रधान ने आगे बताया कि उन लोगों ने अपने घर के दरवाजे पर लिखा है कि ये घर बिकाऊ है।  कई लोगों ने गांव छोड़कर बाहर टेंट लगाकर रहना शुरू कर दिया है।     

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.