Wednesday, Mar 20, 2019

जवान रहने के लिए पीजिए कॉकरोच का दूध! पढ़ें हैरान करने वाली ये रिपोर्ट

  • Updated on 2/20/2019

नई दिल्ली/आकर्ष शुक्ला। अब तक आपने गाय, भैंस, बकरी, ऊंट या अन्य किसी जानवर के दूध के बारे में सुना होगा, लेकिन क्या आपने कभी ऐसी किसी कीट-पतंगे के बारे में सुना है जो दूध देता हो? इतना ही नहीं, अगर उसके दूध का सेवन कोई इंसान करे तो उसे गाय के दूध से भी ज्यादा पौष्टिक तत्व मिलेंगे। जी हां, यह कोई हंसने की बात नहीं है बल्कि सच है। तो आइए जानते हैं इस बारे में और...

तिलचट्टा (कॉकरोच) की एक प्रजाति
कॉकरोच या तिलचट्टा आप किसी भी नाम से उसे बुलाएं उसे कोई फर्क नहीं पड़ने वाला है। उसे तो बस इस बात से मतलब है कि आपके घर में पेट भरने वाली चीजें हैं या नहीं। कॉकरोच हमारे आस-पास के क्षेत्र में आसानी से देखा जा सकता है, अक्सर इसे देख कर कई लोगों को अपनी मम्मी याद आ जाती हैं। लेकिन यही कॉकरोच हमारे सेहत के लिए काफी फायदेमंद साबित हो सकता है। 

इस देश में महिला ने एक साथ दिया 7 बच्चों को जन्म, जानिए फिर क्या हुआ...

आप यह जानकर थोड़ा तो विचलित होंगे ही कि कॉकरोच की एक ऐसी प्रजाति है जो दूध देती। कॉकरोचों में यही एक ऐसी प्रजाति है जो अंडे नहीं देती बल्कि बच्चे पैदा करती है। इसके दूध में बाकि जानवरों के मुकाबले काफी ज्यादा पौष्टिक तत्व होते हैं। विश्व में ऐसे कई देश हैं जहां के लोग कॉकरोच के दूध का सेवन कर रहे हैं और आने वाले दिनों में यह बड़ा बाजार बनकर उभरने वाला है।

भारतीय वैज्ञानिकों ने की चौकाने वाली खोज
वैज्ञानिक सुब्रमण्यम रामाश्वमई जो की एक भारतीय हैं उन्होंने यह खोज की है। तिलचट्टों पर की जा रही एक रिसर्च में उन्होंने कई चौकाने वाले खुलासे किए हैं। सुब्रमण्यम ने बताया कि, कॉकरोच की एक प्रजाति है जिसे विज्ञान की दुनिया में 'डिप्लोप्टेरा पंक्टाटा या पैसिफिक बीटल कॉकरोच' के नाम से जाना जाता है।

यही एक प्रजाति है जो बच्चे पैदा करती है। इतना ही नहीं इस प्रजाति के बच्चे हमेशा जवान रहते हैं। हमने जब इसपर खोज की तो हमें हैरान करने वाली रिपोर्ट मिली।

देश में शराब का सेवन करने वालों की संख्या इतने करोड़

पैसिफिक बीटल कॉकरोच के बच्चों के हमेशा जवान रहने का राज उसकी मां के दूध में होता है। वह जो दूध अपने बच्चों को पिलाती है, उसमें गाय के दूध से भा चार गुना ज्यादा पौष्टिक तत्व होते हैं। रिपोर्ट में पता चला कि इस प्रजाति के कॉकरेच के दूध में पैसीफिक बीटल होता है, जिसका प्रयोग प्रोटीन सप्लीमेंट के रुप में भी किया जाता है। 

कॉकरोच के दूध में होती है ये जादुई शक्ति
जैसा की अब आप जान चूके हैं कि कॉकरोच का दूध गाय के दूध से चार गुना फायदेमंद है। लेकिन कॉकरोच के दूध में ऐसा क्या होता है जो इसको इतना शक्तिशाली बना देता है? सुब्रमण्यम ने इसका जवाब देते हुए बताया कि, कॉकरोच के दूध में प्रोटीन क्रिस्टल नाम की एक धातु मिला हुआ होता है जो इसको इतना पावर फुल बनाता है। 

शहीदों के परिवार को घर देगा क्रेडाई, शाओमी ने भी दिए 2 करोड़ रुपये

इंसानों के लिए है संजीवनी बूटी
इसके धीरे-धीरे सेवन से इंसान को लंबे समय तक लाभ मिलता है। यह एक तरह का शरीर में प्रोटीन सप्लीमेंट का काम करता है और इसका कोई साइड इफेक्ट भी नहीं होता। प्रोटीन क्रिस्टल को एक प्रकार का भोजन कह सकते हैं जिसमें प्रोटीन, फैट और चीनी मिलाया जाता है। इंसानों के लिए यह संजीवनी बूटी की तरह काम करता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.