Saturday, Jul 31, 2021
-->
maharashtra bjp leader arrested made derogatory remarks on sharad pawar pragnt

महाराष्ट्र: BJP नेता गिरफ्तार, शरद पवार पर की थी 'अपमानजनक' टिप्पणी

  • Updated on 5/24/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। मुंबई पुलिस ने राकांपा प्रमुख शरद पवार और उनके पोते विधायक रोहित पवार के खिलाफ ट्विटर पर अपमानजनक टिप्पणी करने के आरोप में भारतीय जनता युवा मोर्चा (भाजयुमो) की महाराष्ट्र इकाई के सचिव को गिरफ्तार किया है।

CM योगी आज गोंडा, आजमगढ़ और वाराणसी का करेंगे दौरा, कोरोना की स्थिति का लेंगे जायजा

महाराष्ट्र भाजयुमो का पदाधिकारी गिरफ्तार
एक अधिकारी ने बताया कि आरोपी प्रदीप गावड़े को शनिवार को पुणे में उसके घर से गिरफ्तार कर लिया गया। मुंबई पुलिस के साइबर प्रकोष्ठ ने यहां बांद्रा में रहने वाले राकांपा के एक पदाधिकारी की शिकायत पर उसे गिरफ्तार किया है। उन्होंने कहा, 'उसके खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 295ए और 500 समेत विभिन्न धाराओं और आईटी अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया है।'

45 वर्ष से ज्यादा के लोगों को कोवैक्सीन का स्टॉक सोमवार के बाद हो जाएगा खत्म - आतिशी

नौका के 274 कर्मियों का पता चला- नौसेना
गौरतलब है कि महाराष्ट्र और गुजरात के तटों से 16 और शवों के मिलने के साथ ही समुद्र में हादसे के शिकार हुए बजरा पी305 और खींचने वाली एक नौका के सभी 274 कर्मियों का पता चल गया है। नौसेना ने बताया कि चक्रवात ताउते के प्रभाव से बजरा पी305 समुद्र में डूब गया था और नौका वरप्रदा तट से दूर चली गयी थी। नौसेना ने बताया, '17 मई को कुल 274 (बजरा पी305 से 261 और नौका वरप्रदा से 13) कर्मियों के लापता होने की सूचना मिली थी। पी305 से 186 और वरप्रदा से दो लोगों को समुद्र से सुरक्षित निकाल लिया गया जबकि भारतीय नौसेना और तटरक्षक के जहाजों ने 70 शवों को समुद्र से बाहर निकाला।'

ऐलोपैथी चिकित्सा को लेकर बाबा रामदेव के बयान पर हर्षवर्धन ने सरकार का रुख किया साफ

ब्लैक फंगस को लेकर महाराष्ट्र सरकार ने PM मोदी से लगाई गुहार
बता दें कि महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से बृहस्पतिवार को कहा कि राज्य में इस वक्त चिंता का सबसे बड़ा विषय म्यूकरमाइकोसिस या ब्लैक फंगस है जिसके कारण यहां 90 लोगों की जान जा चुकी है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार को इसके उपचार के लिए अधिक मात्रा में दवाओं की जरूरत है। प्रधानमंत्री मोदी की महाराष्ट्र के 17 जिलाधिकारियों के साथ हुई बैठक में टोपे ने यह कहा।

बैठक में केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण भी शामिल हुए। टोपे ने राज्य के लिए मांगें रखते हुए कहा कि कोविड-19 के मामलों में कमी आने के चलते रेमडेसिविर जैसी दवाओं और ऑक्सीजन की आवश्यकता स्थिर हुई है और फिलहाल महाराष्ट्र में म्यूकरमाइकोसिस चिंता का प्रमुख विषय बना हुआ है। 

comments

.
.
.
.
.