Sunday, Jun 07, 2020

Live Updates: Unlock- Day 6

Last Updated: Sat Jun 06 2020 07:55 PM

corona virus

Total Cases

246,544

Recovered

118,684

Deaths

6,936

  • INDIA7,843,243
  • MAHARASTRA80,229
  • TAMIL NADU28,694
  • NEW DELHI26,334
  • GUJARAT19,119
  • RAJASTHAN10,084
  • UTTAR PRADESH9,733
  • MADHYA PRADESH8,996
  • WEST BENGAL7,303
  • KARNATAKA4,835
  • BIHAR4,598
  • ANDHRA PRADESH4,112
  • HARYANA3,281
  • TELANGANA3,147
  • JAMMU & KASHMIR3,142
  • ODISHA2,608
  • PUNJAB2,415
  • ASSAM2,116
  • KERALA1,589
  • UTTARAKHAND1,153
  • JHARKHAND889
  • CHHATTISGARH773
  • TRIPURA646
  • HIMACHAL PRADESH383
  • CHANDIGARH304
  • GOA166
  • MANIPUR124
  • NAGALAND94
  • PUDUCHERRY90
  • ARUNACHAL PRADESH42
  • ANDAMAN AND NICOBAR ISLANDS33
  • MEGHALAYA33
  • MIZORAM22
  • DADRA AND NAGAR HAVELI14
  • DAMAN AND DIU2
  • SIKKIM2
Central Helpline Number for CoronaVirus:+91-11-23978046 | Helpline Email Id: ncov2019 @gov.in, ncov219 @gmail.com
maharashtra bjp shivsena fail to from govt ncp will form nawab malik

महाराष्ट्र: BJP-शिवसेना में तनातनी के बीच NCP ने किया सरकार बनाने का दावा

  • Updated on 11/1/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। राकांपा (NCP) के मुख्य प्रवक्ता नवाब मलिक (Nawab Malik) ने शुक्रवार को कहा कि यदि भाजपा (BJP) और शिवसेना (Shiv Sena) महाराष्ट्र (Maharashtra) में सरकार बनाने में विफल रहती हैं तो उनकी पार्टी विकल्प देने का प्रयास करेगी। इससे पहले राकांपा के वरिष्ठ नेता अजित पवार (Ajit Pawar) कह चुके हैं कि पार्टी कांग्रेस (Congress) के साथ विपक्ष में बैठेगी।

शिवसेना के बदले तेवर कहा- मत पालिए अहंकार, शिवसेना का ही होगा CM

मलिक ने भाजपा नेता और मंत्री सुधीर मुनगंटीवार (Sudhir Mungantiwar) पर उनके इस बयान को लेकर प्रहार किया कि यदि महाराष्ट्र में सात नवंबर तक नई सरकार नहीं बनती है तो फिर राज्य में राष्ट्रपति शासन लग सकता है। उन्होंने कहा, "यह कुछ धमकी जैसा लगता है। लोगों ने भाजपा और शिवसेना से सरकार बनाने को कहा है। यदि वे सदन के पटल पर ऐसा करने में विफल रहती हैं तो हम विकल्प देने का प्रयास करेंगे।" वैसे राकांपा नेता ने इसका कोई ब्योरा नहीं दिया।

BJP की नीतियों से नाराज Congress 1 से 15 नवंबर तक करेगी देशव्यापी प्रर्दशन

भाजपा और शिवसेना ने गठबंधन में 21 अक्टूबर का विधानसभा चुनाव (Maharashtra Assembly Elections) लड़ा था लेकिन अब मुख्यमंत्री के पद को दोनों के बीच ठन गयी है। शिवसेना चाहती है कि मुख्यमंत्री का पद ढाई साल उसके पास और ढाई साल भाजपा के पास रहे लेकिन भाजपा इस पर राजी नहीं है। भाजपा ने चुनाव में 105 सीटें जीती हैं जबकि शिवसेना महज 56 सीटें जीत कर दूसरी सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरी है। दूसरी तरफ राकांपा और कांग्रेस ने क्रमश: 54 और 44 सीटें जीती हैं। विधानसभा में सदस्यों की संख्या 288 है और बहुमत के लिए 145 जरूरी है।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.