Sunday, Jul 12, 2020

Live Updates: Unlock 2- Day 12

Last Updated: Sun Jul 12 2020 12:20 PM

corona virus

Total Cases

850,844

Recovered

536,321

Deaths

22,696

  • INDIA7,843,243
  • MAHARASTRA246,600
  • TAMIL NADU134,226
  • NEW DELHI110,921
  • GUJARAT41,027
  • KARNATAKA36,216
  • UTTAR PRADESH35,092
  • TELANGANA33,402
  • WEST BENGAL28,453
  • ANDHRA PRADESH27,235
  • RAJASTHAN23,901
  • HARYANA20,582
  • MADHYA PRADESH17,201
  • ASSAM16,072
  • BIHAR15,039
  • ODISHA13,121
  • JAMMU & KASHMIR10,156
  • PUNJAB7,587
  • KERALA7,439
  • CHHATTISGARH3,897
  • JHARKHAND3,663
  • UTTARAKHAND3,417
  • GOA2,368
  • TRIPURA1,962
  • MANIPUR1,593
  • PUDUCHERRY1,418
  • HIMACHAL PRADESH1,182
  • LADAKH1,077
  • NAGALAND771
  • CHANDIGARH549
  • DADRA AND NAGAR HAVELI482
  • ARUNACHAL PRADESH341
  • MEGHALAYA262
  • MIZORAM228
  • DAMAN AND DIU207
  • ANDAMAN AND NICOBAR ISLANDS163
  • SIKKIM160
Central Helpline Number for CoronaVirus:+91-11-23978046 | Helpline Email Id: ncov2019 @gov.in, ncov219 @gmail.com
maharashtra mantrimandal list

उद्धव ठाकरे बने महाराष्ट्र के 19वें मुख्यमंत्री, जानिए इनके मंत्रियों के बारे में...

  • Updated on 11/29/2019

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। महाराष्ट्र (Maharashtra) में लबें समय तक चले सियासी ड्रामा के बाद अब तस्वीर साफ हो गई है। राज्य में ठाकरे सरकार ने कमान संभाल ली है। उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) ने 19वें मुख्यमंत्री के रूप में शपथ लेकर पदभार ग्रहण कर लिया है। उनके साथ ही 6 अन्य मंत्रियों को शपथ दिलाई गई। आइए जानते हैं इन मंत्रियों के बारे में...

एकनाथ शिंदे
ठाणे शहर में शिवसेना का अहम चेहरा हैं। यहां से लगातार चार बार विधानसभा चुनाव जीतते आ रहे हैं। शिवसेना में संकटमोचक के तौर पर देखे जाने वाले शिंदे भाजपा के नेतृत्व वाली पूर्ववर्ती सरकार (2014-19) में लोक निर्माण मंत्री थे।

छगन भुजबल
भुजबल महाराष्ट्र की राजनीति में कद्दावर नेता हैं और उनकी सबसे बड़ी खासियत है कि राज्य में तीनों प्रमुख गैर भाजपाई दलों से जुड़े रहे हैं। राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) नेता अलग-अलग समय शिवसेना और कांग्रेस के भी सदस्य रहे हैं। भाजपा शासित सरकार के दौरान मार्च 2016 से दो साल जेल में बिताने के बाद एक बार फिर मंत्री बनाए जाने को उनके राजनीतिक भाग्य के फिर से चमकने के तौर पर देखा जा रहा है। 

बालासाहेब थोराट
कांग्रेस नेता बालासाहेब थोराट ने मुश्किल वक्त में पार्टी की प्रदेश इकाई की जिम्मेदारी संभाली। इस साल जुलाई में कांग्रेस प्रमुख की जिम्मेदारी संभाली तो पार्टी राज्य में लोकसभा चुनाव में मिली हार से उबरने की कोशिश कर रही थी। थोराट ने गुटबाजी से जूझ रही प्रदेश इकाई में समुचित समन्वय सुनिश्चित किया। 

सुभाष देसाई
उद्धव ठाकरे के विश्वस्तों में से एक देसाई अभी विधान परिषद सदस्य हैं। मंत्रिमंडल के सबसे वरिष्ठ सदस्य देसाई तीन बार गोरेगांव सीट का विस में प्रतिनिधित्व भी कर चुके हैं। देसाई भाजपा-शिवसेना सरकार (2014-19) में उद्योग मंत्री थे। 

जयंत पाटिल
जयंत पाटिल को साफ छवि वाले नेता के तौर पर देखा जाता है। उन्होंने महत्वपूर्ण माने जाने वाले लोकसभा और राज्य विधानसभा चुनावों से पहले अप्रैल 2018 में सुनील तटकरे की जगह राकांपा की महाराष्ट्र इकाई की जिम्मेदारी संभाली। महाराष्ट्र के चॢचत नेता दिवंगत राजाराम पाटिल के बेटे जयंत ने 1999 से 2014 तक प्रदेश में कांग्रेस-राकांपा गठबंधन की सरकार के दौरान वित्त, गृह और ग्रामीण विकास जैसे महत्वपूर्ण मंत्रालय संभाले थे।  

नितिन राउत
कभी कांग्रेस के गढ़ रहे पूर्वी महाराष्ट्र के विदर्भ से आने वाले पार्टी नेता राउत (62) चार बार के विधायक हैं। वह कांग्रेस के अनुसूचित जाति विभाग के राष्ट्रीय अध्यक्ष हैं और महाराष्ट्र में कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्षों में से एक। नागपुर से आने वाले राउत के पास भी सरकार में काम का पूर्व अनुभव है। वह पहले पशुधन, रोजगार गारंटी और जलसंरक्षण जैसे विभाग संभाल चुके हैं। 

comments

.
.
.
.
.