Wednesday, Apr 08, 2020
mahashivratri 2020 shivratri date time puja vidhi

महाशिवरात्रि के मौके पर सजे शिवालय, ये है शुभ मुहूर्त

  • Updated on 2/21/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। दिल्ली सहित पूरे देश में आज महा-शिवरात्रि (Maha Shivratr) का त्यौहार मनाया जा रहा है। महाशिवरात्रि के अवसर पर राजधानी दिल्ली (Delhi) के सभी मंदिरों, देवालयों में आज सुबह से ही भक्तों और श्रद्धालुओं की भीड़ देखी जा रही है। शिवरात्रि की तैयारी में मंदिर समितियां पहले से ही लगी हैं, मंदिरों को पहले से ही सजा दिया गया है साथ ही निगम व अन्य विभाग मंदिरों के आसपास व्यवस्था चाकचौबंद करने में लगे हुए हैं।

महाशिवरात्रि पर शिवलिंग (Lingam) की विधि विधान अनुसार पूजा अराधना की जाती है। कहा जाता है कि अगर भोलेनाथ भक्त से प्रसन्न हो जाएं तो उनके जीवन की सभी परेशानियां दूर कर देते हैं। शिवभगवान भोलेनाथ की महाशिवरात्रि का त्यौहार है। इस दिन शंकर भगवान और मां पार्वती की पूजा का विधान है।

जिंदगी भर चाहिए है शिव की कृपा तो शिवरात्रि पर न करें ये पाप

झंडेवालान में होगी विशेष पूजा
महाशिवरात्रि पर बहुत से भक्त हरिद्वार (Haridwar) से कांवड भी लेकर आते है। ऐसे में मंदिरों में महाशिवरात्रि की तैयारियां जोरों पर चल रही है। झंडेवालान (jhandewalan) स्थित झंडेवाला देवी मंदिर में विशेष व्यवस्था की गई है। मंदिर में महाशिवरात्रि के अवसर पर शिव विवाह उत्सव मनाया जाएगा।

यह उत्सव सांय 8 बजे से शुरू होगा और शिव इच्छा तक जारी रहेगा। वहीं शिव मंदिर संस्था खिड़की एक्सटेंशन ने शिवरात्रि पर विशेष पूजा अर्चना का कार्यक्रम रखा है।कमेटी के अध्यक्ष किशन सैनी व सहयोगी राजेश सैनी ने बताया कि मंदिर में भक्तों के लिए सुबह चार बजे से ही पूजा अर्चना शुरू हो जाएगी।

बॉलीवुड में बने भोले नाथ पर इन गानों को सुनकर आप भी हो जाएंगे शिव भक्ति में विलीन

महाशिवरात्रि की तिथि और शुभ मुहूर्त 
महाशिवरात्रि की तिथि: 
21 फरवरी 2020
चतुर्थी तिथि प्रारंभ: 21 फरवरी 2020 को शाम 5 बजकर 20 मिनट से
चतुर्थी तिथि समाप्‍त:  22 फरवरी 2020 को शाम 7 बजकर 2 मिनट तक 
रात्रि प्रहर की पूजा का समय: 21 फरवरी 2020 को शाम 6 बजकर 41 मिनट से रात 12 बजकर 52 मिनट तक 

चांदनी चौक में होगी महाआरती
चांदनी चौक (Chandni Chowk) स्थित गौरी शंकर मंदिर में महाशिवरात्रि पर ब्रह्म मुहूर्त से ही जलाभिषेक, अनुष्ठान, विशेष पूजा का आयोजन होता है। आज रात में शिव-पार्वती का मनोहारी श्रृंगार होगा। इसके अलावा रात में चार प्रकार की आरतियां की जाएंगी। पहली आरती महाराजाधिराज की 10 बजे होगी और दूसरी आरती बुढ़वा बाबा की 12 बजे रात को होगी।

तीसरी आरती दूल्हा- दुल्हन श्रृंगार में पार्वती और शिव पूजा के साथ होगी।मंदिर के पुजारी नीरज मिश्रा के अनुसार चांदनी चौक स्थित गौरी शंकर मंदिर 800 साल पुराना है। यह मंदिर भारत के शैव संप्रदाय के सबसे पुराने मंदिरों में से एक है। मंदिर में हर साल महाशिवरात्रि का भव्य आयोजन किया जाता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.