Wednesday, Oct 16, 2019
malvinder, former promoter of ranbaxy, shivindra arrested, action taken on rfl complaint

रेनबैक्सी के पूर्व प्रमोटर मालविन्द्र, शिविन्द्र गिरफ्तार, RFL के शिकायत पर हुई कार्रवाई

  • Updated on 10/11/2019

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। 740 करोड़ रुपए की धोखाधड़ी मामले में दिल्ली पुलिस (Delhi Police) की आर्थिक अपराध शाखा ने वीरवार को विश्व की नामचीन कंपनी रैनबैक्सी (Ranbaxy) के पूर्व प्रमोटर मलविंदर (Malvinder) और शिविन्द्र सिंह (Shivinder singh) को गिरफ्तार कर लिया है। इसके अलावा सुनील गोधवानी, कवि अरोड़ा व अनिल सक्सेना को भी गिरफ्तार किया है।

रणजी ट्रॉफी में खिलाने को लेकर दो खिलाड़ियों से धोखाधड़ी, दो लोग गिरफ्तार

कंपनी के पैसे का अन्य कार्यों में इस्तेमाल किया गया
दिल्ली पुलिस ने यह कार्रवाई रेलीगेयर फिनवेस्ट लिमिटेड (RFL) की शिकायत पर की है।  रेलीगेयर ने आरोप लगाया है कि कंपनी के वरिष्ठ प्रबंधन अधिकारियों ने कंपनी के पैसे का अन्य कार्यों में इस्तेमाल किया है। इसके साथ ही इन पर पैसे गबन का आरोप है। रेलीगेयर ने शिकायत में आरोप लगाया है कि सिंह ने कंपनी का निदेशक रहते हुए कर्ज लिया था, लेकिन कर्ज ली गई राशि का अन्य कंपनियों में निवेश कर दिया था। 

सहवाग की पत्नी के साथ बिजनेस पार्टनर की धोखाधड़ी, जाली दस्तखत से लिया 4.5 करोड़ का लोन

राशि का अन्य कंपनियों में निवेश किया गया
पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि आरएफएल में प्रबंधन बदला। नए प्रबंधन ने जब कार्यभार संभाला तो उसने पाया कि एक बार कर्ज लिया गया और उस राशि का सिंह और उसके भाई से जुड़ी अन्य कंपनियों में निवेश कर दिया गया। प्रबंधन ने आर्थिक अपराध शाखा में शिकायत की जिसके बाद प्राथमिकी दर्ज की गई। शिवेन्द्र का भाई मालविन्द्र फरार है और उसके खिलाफ लुक-आऊट नोटिस जारी किया गया है। 

 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.