पश्चिम बंगाल में लोकतंत्र का गला घोंट रहीं हैं ममता : अमित शाह

  • Updated on 12/7/2018

नई दिल्ली/टीम डिजिटल।  भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने शुक्रवार को कहा कि पश्चिम बंगाल में भाजपा की बढ़त से मुख्यमंत्री ममता बनर्जी डरी हुई हैं और भगवा दल को तीन ‘‘यात्राओं’’ की अनुमति नहीं देकर वह प्रदेश में लोकतंत्र का गला घोंट रही हैं।

ममता बनर्जी सरकार से इजाजत नहीं मिलने और अदालत से भी राहत नहीं मिलने के कारण भाजपा को राज्य में तीन ‘‘रथ यात्राएं’’ रद्द करना पड़ी थीं। उसी की पृष्ठभूमि में शाह ने यह कहा। शाह ने संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘‘हम निश्चित तौर पर यात्राएं निकालेंगे और हमें कोई नहीं रोक सकता। पश्चिम बंगाल में बदलाव के प्रति भाजपा प्रतिबद्ध है। ‘यात्राएं’ रद्द नहीं, सिर्फ स्थगित हुई हैं।’’

रॉबर्ट वाड्रा और उनके करीबियों के खिलाफ प्रवर्तन निदेशालय की टीम के छापे

उन्होंने कहा कि यात्राओं की इजाजत लेने के लिए उनकी पार्टी न्यायिक प्रक्रिया का पालन करेगी। कलकत्ता उच्च न्यायालय ने एक दिन पहले भाजपा को कूचबिहार में ‘‘रथयात्रा’’ निकालने की अनुमति देने से इनकार कर दिया था, क्योंकि राज्य सरकार ने ऐसा होने पर हिंसा का अंदेशा जताया था। शाह इन यात्राओं को शुक्रवार को हरी झंडी दिखाने वाले थे। भाजपा ने इस यात्रा की अनुमति के लिए खंडपीठ के समक्ष अपील की है।

शाह के आरोपों का अभी ममता बनर्जी या उनकी पार्टी की ओर से कोई जवाब नहीं दिया गया है। बनर्जी और उनकी पार्टी पर निशाना साधते हुए शाह ने कहा कि राज्य के लोग बदलाव के लिए तैयार हैं। उन्होंने जोर देकर कहा कि लोकसभा चुनाव में प्रदेश में पार्टी अधिक से अधिक सीटें जीतेगी।

सावित्री फुले के इस्तीफे पर कांग्रेस बोली- डूबते जहाज से छलांग समझदारी

शाह ने कहा कि ममता जानती हैं कि ये यात्राएं बदलाव की नींव रखेंगी इसलिए वह उन्हें रोकने की कोशिश कर रही हैं। शाह ने बताया कि शनिवार को वह राज्य के दौरे पर जाएंगे और मुख्यमंत्री को बिन मांगी सलाह देंगे कि जितना उनकी सरकार भाजपा को दबाने की कोशिश करेगी, उतनी ज्यादा नाराजगी जनता के बीच बढ़ेगी।

उन्होंने कहा कि राज्य में पंचायत चुनाव में इस सरकार में जितनी हिंसा हुई उतनी वाम मोर्चा की सरकार में भी नहीं हुई थीं। ममता बनर्जी के नेतृत्व वाली पश्चिम बंगाल सरकार पर तीखा हमला बोलते हुए शाह ने आरोप लगाया कि देश में सर्वाधिक सियासी हत्याएं राज्य में हुई हैं। इसके लिए उन्होंने एक अध्ययन का हवाला भी दिया। उन्होंने कहा, ‘‘पूरा पश्चिम बंगाल प्रशासन सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस के लिए काम कर रहा है।’’

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.