Thursday, Jun 17, 2021
-->
mamata wrote letter to pm modi regarding allocation of oxygen plants corona virus rkdsnt

ऑक्सीजन संयंत्रों के आवंटन को लेकर ममता ने पीएम मोदी को लिखा पत्र

  • Updated on 5/14/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। कोविड-19 के मामलों में लगातार हो रही बढ़ोतरी के बीच पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को एक पत्र लिखकर उनसे राज्य के लिए पीएसए ऑक्सीजन संयंत्र का निष्पक्षता से और तुरंत आवंटन कराए जाने का अनुरोध किया। तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ने प्रधानमंत्री को लिखे पत्र में कहा है कि राज्य को 70 पीएसए ऑक्सीजन संयंत्र मिलने थे और अब सूचित किया गया है कि पहले चरण में ऐसे चार ही संयंत्र दिए जाएंगे। 

गुजरात के सीएम रूपाणी की प्रतिष्ठा को नुकसान पहुंचाने के आरोप में डिस्क जॉकी हिरासत में 

बनर्जी ने बाकी ऑक्सीजन संयंत्रों के बारे में दी गयी सूचना में साफ-साफ जानकारी नहीं होने की भी शिकायत की है। बनर्जी ने पत्र में कहा है, ‘‘केंद्र राज्यों में अस्पतालों को पीएसए संयंत्रों की आपूर्ति करने पर विचार कर रहा है। प्राथमिकताओं में बार-बार बदलाव हो रहा है, क्रियान्वयन करने वाली एजेंसियों का रुख भी बदल रहा है, पश्चिम बंगाल के लिए निर्धारित कोटे में भी लगातार संशोधन कर इसे कम किया जा रहा।’’ 

पीएम मोदी नहीं निभा रहे हैं राजधर्म : कांग्रेस

मुख्यमंत्री ने पत्र में लिखा है, ‘‘हमें बताया गया था कि राज्य को 70 पीएसए संयंत्र दिए जाएंगे। अब कहा गया है कि पहले चरण में चार संयंत्र दिए जाएंगे। बाकी संयंत्रों को लेकर भी कोई स्पष्ट सूचना नहीं है।’’ पीएसए संयंत्रों से कोविड-19 मरीजों का उपचार कर रहे अस्पतालों में ऑक्सीजन की आपूर्ति बेहतर होगी। 

राज्यों को अगले 15 दिनों में 192 लाख कोरोना रोधी टीके निशुल्क देगा केंद्र : स्वास्थ्य मंत्रालय

बनर्जी ने कहा, ‘‘मैं आपसे अनुरोध करती हूं कि प्राथमिकता के साथ क्रियान्वयन करने वाली एजेंसियों की जिम्मेदारी तय कर और उचित, पारदर्शी तथा निष्पक्षता से कोटा निर्धारित करें। दिल्ली में दुविधा की स्थिति के कारण राज्य की एजेंसियों द्वारा पीएसए संयंत्र लगाने की पूरक योजनाओं पर भी असर पड़ रहा है।’’ 


पीएम-किसान योजना के तहत पूर्ण राशि का भुगतान नहीं 
प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत पश्चिम बंगाल के किसानों को शुक्रवार को कोष की पहली किस्त मिलने के बाद मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने केन्द्र सरकार पर निशाना साधते हुए उस पर पूरी राशि भुगतान ना करने का आरोप लगाया। बनर्जी ने किसानों को एक खुला पत्र लिखा और कहा कि बंगाल में पात्र किसानों को योजना का लाभ देने का निर्णय उनकी सरकार की ‘‘निरंतर लड़ाई’’ का परिणाम है। उन्होंने कहा, ‘‘ पश्चिम बंगाल सरकार ने 2018 में कृषक बंधु योजना शुरू की थी, जो पूरे देश के लिए एक मॉडल बन गई है।’’ 

बनर्जी ने कहा, ‘‘ इसके बाद 2019 में प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना शुरू की गई। तुलनात्मक रूप से, राज्य का कार्यक्रम बेहतर है क्योंकि इससे किसानों को अधिक लाभ मिलता है... हम निकट भविष्य में अपनी योजना में और लाभ जोडऩे पर विचार कर रहे हैं।’’ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को विडिया कॉन्फ्रेंस के जरिए प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत देश के 9.5 करोड़ से अधिक किसानों को लाभ की आठवीं किस्त जारी की थी।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.