Sunday, Apr 18, 2021
-->
mamta banerjee convenes emergency meeting before amit shah entry in bengal pragnt

प. बंगालः अमित शाह के दौरे से पहले TMC में भगदड़, ममता ने बुलाई इमरजेंसी बैठक

  • Updated on 12/18/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। पश्चिम बंगाल (West Bengal) में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए सभी राजनीतिक पार्टियां सक्रिय हो गई है। इस बीच शुक्रवार को खबर आई कि तृणमूल कांग्रेस प्रमुख और बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) ने आज पार्टी की आपातकालीन बैठक बुलाई है। लेकिन टीएमसी के टॉप सूत्रों का कहना है कि आज कोई आपातकालीन बैठक नहीं है। ये बैठक नियमित बैठकों का हिस्सा है। हर शुक्रवार को अध्यक्ष बैच में नेताओं से मिलते हैं। 

हरसिमरत कौर बोलीं- केजरीवाल ने कृषि कानूनों की प्रतियां फाडकर किया ‘घटिया नाटक’’

दो दिन के दौरे पर जाएंगे अमित शाह
बता दें कि केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह इस सप्ताहांत राज्य का दौरा करेंगे वहीं केंद्रीय मंत्रिपरिषद के उनके सहयोगी गजेन्द्र सिंह शेखावत, संजीव बालियान, प्रह्लाद पटेल, अर्जुन मुंडा और मनसुख भाई मांडविया अगले कुछ दिनों के भीतर प्रदेश का दौरा करेंगे। सूत्रों के मुताबिक उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्या और मध्य प्रदेश सरकार में वरिष्ठ मंत्री नरोत्तम मिश्रा को भी पश्चिम बंगाल में जिम्मेदारी सौंपी गई है।

भारत और ऑस्ट्रेलिया ने की सीमा पार से फैलाए जा रहे आतंकवाद की निंदा, ठोस कार्रवाई का किया आह्वान

शुभेंदु अधिकारी ने दिया इस्तीफा
मालूम हो कि पिछले कई दिनों से लग रही अटकलों पर विराम लगाते हुए तृणमूल कांग्रेस (TMC) के कद्दावर नेता शुभेंदु अधिकारी (Suvendu Adhikari) ने बुधवार को विधायक पद से इस्तीफा दे दिया। वहीं अब शुभेंदु के बीजेपी (BJP) में शामिल होने के कयास लगाए जा रहे हैं। पूर्वी मेदिनीपुर जिले में नंदीग्राम निर्वाचन क्षेत्र से विधायक शुभेंदु अधिकारी ने पिछले महीने राज्य मंत्रिमंडल से इस्तीफा दे दिया था और वह पिछले कुछ समय से पार्टी नेतृत्व से दूरी बरत रहे थे। वह बुधवार शाम राज्य विधानसभा आए और विधानसभा के सचिव को अपना इस्तीफा सौंपा।

अगले दो सालों में देशभर से खत्‍म कर दिए जाएंगे टोल प्‍लाजा, जानें क्या है सरकार की योजना

अधिकारी का इस्तीफा पार्टी के लिए बड़ा मुद्दा नहीं- TMC
वहीं दूसरी ओर तृणमूल कांग्रेस से शुभेंदु अधिकारी के गुरुवार को सभी संबंध तोड़ने के बाद पार्टी के एक वरिष्ठ नेता ने कहा कि एक या दो व्यक्तियों के चले जाने का पार्टी पर कोई असर नहीं पड़ेगा। अधिकारी ने बुधवार को पश्चिम बंगाल विधानसभा की सदस्यता से इस्तीफा देने के बाद आज तृणमूल कांग्रेस की प्राथमिक सदस्यता से भी इस्तीफा दे दिया। कल ही ये अटकलें तेज हो गई थीं कि वह भाजपा में शामिल हो सकते हैं।

कृषि मंत्री ने लिखा खुला पत्र, विपक्ष पर प्रहार तो किसानों को हितों की रक्षा की दी गारंटी

CM ममता से मुलाकात का इंतजार कर रहें हैं शुभेंदु
तृणमूल कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सुब्रत मुखर्जी ने कहा, 'जहां तक मुझे जानकारी है शुभेंदु मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से मुलाकात का इंतजार कर रहे हैं।' मुखर्जी ने कहा, 'शुभेंदु ने कहा है कि वह दीदी का इंतजार कर रहे हैं। वह दीदी से बात करेंगे।' अधिकारी के इस्तीफे से विधानसभा चुनाव से पहले पार्टी पर पड़ने वाले असर के बारे में पूछे जाने पर मुखर्जी ने कहा, 'तृणमूल कांग्रेस एक बड़ी पार्टी है। पार्टी का भाग्य एक या दो व्यक्तियों पर निर्भर नहीं है। क्या यह संभव है? ममता बनर्जी की बैठकों में शामिल होने वाले लोगों की बड़ी संख्या को देखिए।' उन्होंने कहा कि इसके अलावा विधानसभा अध्यक्ष बिमान बनर्जी ने कहा है कि अधिकारी का इस्तीफा नियम अनुरूप नहीं है।

यहां पढ़े अन्य बड़ी खबरें...

comments

.
.
.
.
.