Saturday, Mar 25, 2023
-->
mamta gave message from hospital - i will campaign on wheel chair musrnt

प. बंगालः ममता बनर्जी ने हॉस्पीटल से दिया संदेश- व्हील चेयर पर करूंगी प्रचार

  • Updated on 3/11/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने अस्पताल से एक वीडियो संदेश में अपने समर्थकों से शांति बनाए रखने और ऐसा कुछ नहीं करने की अपील की जिससे जनता को परेशानी हो। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने अस्पताल से जारी वीडियो संदेश में कहा कि वह कुछ दिनों में चुनाव प्रचार के लिए लौटेंगी और जरूरी हुआ तो व्हील चेयर का इस्तेमाल करेंगी।

इसके पहले, तृणमूल कांग्रेस ने नंदीग्राम में चुनाव प्रचार मुहिम के दौरान घायल हुईं पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को सुरक्षा मुहैया कराने में नाकाम रहने पर निर्वाचन आयोग की बृहस्पतिवार को निंदा की और कहा कि आयोग जिम्मेदारी से नहीं बच सकता, क्योंकि विधानसभा चुनाव की घोषणा के बाद वही कानून-व्यवस्था की स्थिति के लिए जिम्मेदार है।

तृणमूल के प्रतिनिधि मंडल ने यहां आयोग के अधिकारियों से मुलाकात करने के बाद निर्वाचन आयोग पर भाजपा नेताओं के ‘आदेशानुसार’ काम करने का आरोप लगाया और कहा कि ‘बनर्जी पर हमला हो सकने की रिपोर्ट के बावजूद निर्वाचन आयोग ने कुछ नहीं किया’। तृणमूल के महासचिव पार्थ चटर्जी ने कहा, ‘बंगाल में कानून- व्यवस्था की स्थिति अच्छी थी, लेकिन चुनावों की घोषणा के बाद कानून- व्यवस्था ईसी (निर्वाचन आयोग) की जिम्मेदारी बन गई।’

उन्होंने कहा, ‘ईसी ने राज्य पुलिस के डीजीपी को हटा दिया और अगले ही दिन उन पर (बनर्जी) हमला हो गया।’ चटर्जी ने दावा किया कि वरिष्ठ भाजपा नेताओं के कई बयानों से ये संकेत मिले थे कि बनर्जी पर हमला हो सकता है और ‘ये जानकारियां होने के बावजूद मुख्यमंत्री को पर्याप्त सुरक्षा मुहैया नहीं कराई गई।’ उन्होंने कहा, ‘जब ईसी प्रशासन का प्रभारी है, तो ममता बनर्जी पर हमले की जिम्मेदारी कौन लेगा? ईसी को इस घटना की जिम्मेदारी लेनी होगी।’

पुलिस ने ममता पर ‘हमले’ के संबंध में मामला दर्ज किया

तृणमूल कांग्रेस के नेता शेख सूफियान की ओर से दी गई शिकायत के आधार पर पुलिस ने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर हुए हमले के संबंध में बृहस्पतिवार को मामला दर्ज किया। पुलिस ने यह जानकारी दी। पूर्व मेदिनीपुर जिले के वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि भारतीय दंड संहिता की धारा 341 (गलत तरीके से रोकने) और धारा 323 (जानबूझ कर चोट पहुंचाने) के तहत मामला दर्ज किया गया है।

उन्होंने बताया कि, ‘हमें श्री सूफियान की ओर से शिकायत मिली थी। हमारी जांच चल रही है और हम साक्ष्य इकट्ठा कर रहे हैं।’ इससे पहले सुबह जिला मजिस्ट्रेट विभु गोयल, पुलिस अधीक्षक प्रवीण प्रकाश और अन्य अधिकारी बिरुलिया बाजार गए, जहां घटना हुई थी।

अधिकारियों ने प्रत्यक्षर्दिशयों के बातचीत की और घटनाक्रम का पता लगाने के लिए क्षेत्र में सीसीटीवी कैमरे की भी तलाश की। मुख्यमंत्री का फिलहाल कोलकाता के एसएसकेएम अस्पताल में उपचार चल रहा है। चिकित्सकों के अनुसार बनर्जी के पैर, कमर, कंघे और गर्दन में चोटें आई हैं।

तृणमूल ने घोषणापत्र जारी करने का कार्यक्रम टाला

ममता बनर्जी पर कथित हमले के बाद तृणमूल कांग्रेस ने राज्य में आगामी चुनाव के लिए अपना घोषणा पत्र जारी करने का कार्यक्रम टाल दिया है। पार्टी के नेताओं ने इस बारे में बताया। पार्टी अध्यक्ष बनर्जी द्वारा कालीघाट में अपने आवास पर बृहस्पतिवार दोपहर को घोषणापत्र जारी करने का कार्यक्रम था।

तृणमूल कांग्रेस के एक वरिष्ठ नेता ने बताया, ‘घोषणापत्र जारी करने के कार्यक्रम को कुछ समय के लिए टाल दिया गया है। ममता बनर्जी के ठीक होने और घर वापस आने के बाद इसे जारी किया जाएगा। हमारा घोषणापत्र तैयार है, लेकिन मुख्यमंत्री की गैरमौजूदगी में इसे जारी करने का सवाल ही नहीं उठता।’ ममता बनर्जी एसएसकेएम अस्पताल में भर्ती हैं। डॉक्टरों ने बताया कि मुख्यमंत्री के बायें पैर के टखने तथा पांव की हड्डियों में गंभीर चोट आयी हैं और उनके दायें कंधे, हाथ तथा गले पर भी चोट लगी है और उनका उपचार चल रहा है।

मुख्यमंत्री ने बुधवार को आरोप लगाया कि नंदीग्राम में चुनाव प्रचार के दौरान ‘चार- पांच लोगों’ द्वारा कथित रूप से धक्का दिये जाने की वजह से उनको चोट लगी है। बनर्जी ने पांच मार्च को पार्टी के 291 उम्मीदवारों की सूची जारी की थी। पश्चिम बंगाल में आठ चरणों में 27 मार्च से मतदान शुरू होगा। मतगणना दो मई को होगी।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.