Tuesday, Jul 23, 2019

Non C-TET शिक्षकों के लिए खुशखबरी, शिक्षा मंत्री ने LG को डेप्यूटेशन बढ़ाने के लिए लिखा खत

  • Updated on 7/12/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। दिल्ली सरकार के स्कूलों (Delhi Government School) में पढ़ाने वाले नॉन-सीटेट (Non C-TET) शिक्षकों  के लिए एक अच्छी खबर है। दिल्ली के शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) ने उपराज्यपाल (LG) अनिल बैजल (Anil Baijal) को पत्र लिखकर दिल्ली सरकार के स्कूलों में पढ़ाने वाले नॉन-सीटेट शिक्षकों के काम की समय सीमा को एक साल बढ़ाने का निवेदन किया है। 

मिसालः दुर्घटना में घायलों को अस्पताल पहुंचाते हैं 76 साल के ऑटो ड्राइवर हरजिंदर

बच्चों की पढ़ाई में हो सकता है नुकसान

मनीष सिसोदिया ने पत्र में लिखा है कि शिक्षकों की नियुक्ति प्रक्रिया लंबी होने से अगर अभी हम नॉन C-TET शिक्षकों को हटा देते हैं तो पढ़ाई का बहुत नुकसान होगा। इसलिए पिछले साल की तरह इस साल भी शैक्षणिक सत्र तक के लिए नॉन C-TET शिक्षकों की सेवा बरकरार रखने की कृपा की जाए। 

दिल्ली के सरकारी स्कूलों में CCTV लगाने के फैसले पर रोक लगाने से SC ने किया इनकार

दिल्ली में शिक्षकों की भारी कमी

सिसोदिया ने उपराज्यपाल का ध्यान दिल्ली में शिक्षकों की भारी कमी की ओर आकर्षित किया है। उन्होंने लिखा है कि दिल्ली में सरकारी स्कूलों में तकरीबन 5000 शिक्षकों के पद खाली हैं। अगर नॉन C-TET शिक्षक जो अभी पढ़ा रहे थे, उनकी संख्या को भी जोड़ा जाए तो डेढ़ हजार और शिक्षक हो जाएंगे। कुल मिलाकर तमाम सरकारी स्कूलों में 6500 शिक्षकों की कमी है।

23.51% बजट में से MCD के स्कूलों के लिए केवल 1.46%, बच्चों के साथ भेदभाव क्यों?- मनोज तिवारी

पहले अनिवार्य नहीं था C-TET

जानकारी के लिए आपको बता दें कि पहले ये परीक्षा अनिवार्य नहीं होने से सभी शिक्षक गेस्ट टीचर के रूप में अपनी सेवाएं दे रहे थे, लेकिन अब इसे अनिवार्य कर दिया गया है। जिसके चलते फिलहाल डेढ़ हजार शिक्षक सेवा नहीं दे पा रहे हैं। मनीष सिसोदिया ने इन शिक्षकों को एक साल के लिए एक्सटेंशन देने का निवेदन करते हुए उपराज्यपाल अनिल बैजल को पत्र लिखा है। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.