Tuesday, Oct 26, 2021
-->
mann ki baat pm modi addresses nation on 81st edition kmbsnt

Mann Ki Baat: कोरोना ने बढ़ाई हेल्थकेयर और वेलनेस को लेकर जागरूकता - PM

  • Updated on 9/26/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज 'मन की बात' रेडियो कार्यक्रम के माध्यम से राष्ट्र को संबोधित कर रहे हैं। आज ही पीएम मोदी अपनी चार दिवसीय अमेरिका यात्रा से लौटे हैं। इसके तुरंत बाद पीएम मोदी मन की बात कार्यक्रम के द्वारा देशावासियों को संबोधित करने पहुंचे हैं।

आज मन की बात का 81वां एपिसोड प्रसारित किया जाएगा। ये क्रार्यक्रम आकाशवाणी, दूरदर्शन और आकाशवाणी समाचार की वेबसाइट www.newsonair.com और न्यूज़ ऑन एयर मोबाइल ऐप के नेटवर्क पर प्रसारित किया जाता है।

पीएम मोदी ने कही ये बड़ी बातें 

  • आज हम लोगों की ज़िंदगी का हाल ये है कि एक दिन में सैकड़ों बार कोरोना शब्द हमारे कान पर गूंजता है, 100 साल में आई सबसे बड़ी वैश्विक महामारी कोविड-19 ने हर देशवासी को बहुत कुछ सिखाया है। हेल्थकेयर और वेलनेस को लेकर आज जिज्ञासा और जागरूकता बढ़ी है: प्रधानमंत्री
  • आज आज़ादी के 75वें साल में हम जब आज़ादी के अमृत महोत्सव को मना रहे हैं, हम संतोष से कह सकते हैं कि आज़ादी के आंदोलन में जो गौरव खादी को था आज हमारी युवा पीढ़ी खादी को वो गौरव दे रही है: प्रधानमंत्री
  • पिछले अगस्त महीने में यूपीआई से 355 करोड़ लेनदेन हुए। आज औसतन 6 लाख करोड़ रुपये से ज़्यादा का डिजिटल पेमेंट यूपीआई से हो रहा है। इससे देश की अर्थव्यवस्था में स्वच्छता, पारदर्शिता आ रही है: मन की बात कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी
  • हमारे शास्त्रों में नदियों में जरा सा प्रदूषण करने को भी गलत बताया गया है। हम नदियों की सफाई और उन्हें प्रदूषण से मुक्त करने का प्रयास सबके प्रयास और सहयोग से कर सकते हैं। नमामि गंगे मिशन आज आगे बढ़ रहा है तो इसमें सभी लोगों के प्रयास, जगजागृति, जनआंदोलन की बड़ी भूमिका है: PM
  • हमारे आज के नौजवान को ये जरूर जानना चाहिए कि साफ-सफाई के अभियान ने कैसे आज़ादी के आंदोलन को निरंतर ऊर्जा दी थी। ये महात्मा गांधी ही तो थे, जिन्होंने स्वच्छता को जन-आंदोलन बनाने का काम किया था। महात्मा गांधी ने स्वच्छता को स्वाधीनता के सपने के साथ जोड़ दिया था: प्रधानमंत्री
  • आजकल एक विशेष ई-ऑक्शन चल रहा। ये इलेक्ट्रॉनिक नीलामी उन उपहारों की हो रही है, जो मुझे समय-समय पर लोगों ने दिए हैं। इस नीलामी से जो पैसा आएगा, वो नमामि गंगे अभियान के लिये ही समर्पित किया जाता है: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी
  • विश्व ​नदी दिवस पर बोलते हुए पीएम मोदी ने कहा कि हमारे लिए नदियां एक भौतिक वस्तु नहीं है, हमारे लिए नदी एक जीवंत इकाई है। तभी तो हम नदियों को मां कहते हैं, हमारे कितने ही पर्व, त्योहार, उत्सव, उमंग इन माताओं की गोद में होते हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.