Tuesday, Jun 22, 2021
-->
manoj tiwari said rahul gandhi the world''''s most confused leader sohsnt

राहुल गांधी दुनिया के सबसे 'कन्फ्यूज नेता', नहीं है कृषि कानूनों की जानकारी- मनोज तिवारी

  • Updated on 12/1/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। भाजपा (BJP) के वरिष्ठ नेता एवं सांसद मनोज तिवारी (Manoj Tiwari) ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandi) पर हमला बोलते हुए उन्हें दुनिया का सबसे ‘कन्फ्यूज नेता’ करार दिया और कहा कि गांधी को संसद द्वारा हाल में पारित कृषि कानूनों की जानकारी ही नहीं है।

पिता ने शेहला रशीद को बताया देश विरोधी गतिविधियों में शामिल, कहा- बैंक खातों की जांच हो

राहुल गांधी दुनिया के सबसे कन्फ्यूज नेता- मनोज
सोमवार शाम एक विवाह समारोह में शिरकत करने यहां आये तिवारी ने संवाददाताओं से कहा,'राहुल गांधी दुनिया के सबसे कन्फ्यूज नेता हैं। उनको कृषि कानून की जानकारी ही नहीं है। हाल में संसद ने जिन कृषि कानूनों को पारित किया है उन्हें पंजाब की कांग्रेस सरकार को छोड़कर देश के बाकी सभी राज्यों ने स्वीकार कर लिया है।' 

किसान आंदोलन को लेकर राहुल का PM मोदी पर हमला, कहा- 'जागिए अहंकार की कुर्सी से उतरकर सोचिए'

केन्द्र सरकार सबकी बातें सुनने को तैयार 
कृषि कानूनों को लेकर किसानों की चिंता के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा, 'भाजपा और केन्द्र सरकार सबकी बातें सुनने को तैयार हैं। कृषि मंत्री नरेन्द्र तोमर और गृहमंत्री अमित शाह आन्दोलनरत किसानों से वार्ता करना चाहते हैं और किसान नेताओं को तीन दिसम्बर को बातचीत के लिए आमंत्रित भी किया गया है।'

किसान प्रदर्शन के चलते दिल्ली में सब्जियों की आपूर्ती प्रभावित, आसमान छू रहे दाम!

किसानों को भड़का रही है कांग्रेस- मनोज तिवार
तिवारी ने आरोप लगाया, 'कांग्रेस और अन्य विपक्षी दल कृषि कानूनों को लेकर किसानों को भड़का रहे हैं। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी किसानों की आय दोगुनी करके उनको आर्थिक रूप से मजबूत करना चाहते हैं।' उन्होंने कहा कि सरकार बिचौलियों को हटाकर किसानों को धान का न्यूनतम समर्थन मूल्य दे रही है। 

केंद्र ने किसानों को मीटिंग के लिए किया आमंत्रित, दोपहर 3 बजे विज्ञान भवन में होगी बैठक

किसान का अधिकार दीजिए- राहुल गाधी
वहीं दूसरी ओर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी  ने पीएम मोदी का नाम लिए बिना उनपर निशाना साधते हुए कहा कि, 'अन्नदाता सड़कों-मैदानों में धरना दे रहे हैं, और ‘झूठ’ टीवी पर भाषण! किसान की मेहनत का हम सब पर कर्ज है। ये कर्ज उन्हें न्याय और हक देकर ही उतरेगा, न कि उन्हें दुत्कार कर, लाठियां मारकर और आंसू गैस चलाकर। जागिए, अहंकार की कुर्सी से उतरकर सोचिए और किसान का अधिकार दीजिए।'

किसान नेताओं ने कहा- निर्णायक लड़ाई के लिए आए हैं दिल्ली, जारी रहेगा प्रदर्शन 

कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर आज किसानों से करेंगे बात
दरअसल, नए कृषि कानूनों के खिलाफ किसान बीते पांच दिनों से लगातार दिल्ली के सिंघु और टिकरी बॉर्डर पर आंदोलन कर रहे हैं। आंदोलन को बढ़ते देख कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने आज किसानों को इस मुद्दे पर बातचीत करने के लिए बुलाया है। कृषि मंत्री और किसनों के बीच ये बैठक आज दोपहर तीन बजे विज्ञान भवन में होनी है। किसानों ने केंद्र सरकार को स्पष्ट कर दिया है कि जब उनकी बात नहीं सुनी जाएगी आंदोलन इसी तरह जारी रहेगा। 

किसान आंदोलन से जुड़ी 10 बड़ी खबरें यहां पढ़ें...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.