Thursday, May 13, 2021
-->
mathura-entry-of-devotees-in-temples-is-banned-on-janmashtami-prsgnt

जन्माष्टमी पर न जाएं मथुरा, सभी मंदिर रहेंगे बंद, घर बैठकर ऐसे करें भगवान श्रीकृष्ण के दर्शन

  • Updated on 8/10/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। इस बार कृष्ण जन्माष्टमी पर मथुरा के सभी मंदिर बन रहेंगे। कोरोना के चलते मंदिरों में श्रद्धालुओं के आने पर बैन लगाया गया है। हालांकि ये पहली बार ही होगा जब श्रद्धालुओं के बिना बुधवार को मथुरा में श्रीकृष्ण जन्मोत्सव धूमधाम से मनाया जाएगा। इस बार श्रद्धालु श्रीकृष्ण के दर्शन नहीं कर सकेंगे।

बताया जा रहा है कि बढ़ते कोरोना संकट को देखते हुए सभी मंदिरों में कोरोना महामारी के सभी दिशा-निर्देशों का पालन किया जाएगा लेकिन इस बार श्रद्धालुओं का आना-जाना नहीं हो सकेगा। लेकिन मथुरा-वृन्दावन, गोवर्धन, नन्दगांव, गोकुल, महावन, बरसाना और बलदेव आदि सहित सभी मंदिरों को 10 अगस्त की दोपहर 12 बजे से 13 अगस्त दोपहर बाद तक बंद किया जाएगा, ताकि भक्तों का आगमन न हो सके।

जन्माष्टमी 2020: इन मंदिरों में भगवान कृष्ण का दिखता है अनोखा रूप, आप भी हो जाएंगे मंत्रमुग्ध

लेकिन इन नियमों के साथ ही यह भी ध्यान रखा गया है कि श्रद्धालुओं को मंदिरों में न सही लेकिन उनके घरों तक भगवान कृष्ण के जन्म के पावन दर्शन हो सकें इसलिए इस बार दूरदर्शन व अन्य चैनलों द्वारा मथुरा से टीवी पर सीधा प्रसारण किया जाएगा। लाइव टेलीकास्ट के जरिये सभी भक्तगण श्रीकृष्ण जन्मोत्सव के दर्शन का लाभ ले सकेंगे।

ढाई माह लंबे लॉकडाउन के बाद 8 जून से खुलेंगे मथुरा- वृंदावन के मंदिर

वहीँ, मथुरा में हमेशा की तरह जन्मोत्सव की तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। रात्रि 11 बजे से ही सभी कार्यक्रम शुरू कर लिए जाएंगे। सबसे पहले जन्माभिषेक का अलौकिक कार्यक्रम रात्रि 11 बजे वंदना से शुरु होकर, नवग्रह पूजन कर समाप्त होगा उसके बाद, 12 बजे कृष्ण के जन्म के साथ ही आरती प्रारंभ की जाएगी। इसके बाद सभी तरह के सुगन्धित द्रव्यों और वस्त्रों को धारण कर भगवान श्रीकृष्ण अभिषेक स्थल पर विराजेंगे। इस दौरान सभी भक्त ऑनलाइन भगवान के जन्म का आनंद लेते हुए दर्शन करेंगे।

यहां पढ़ें अन्य महत्वपूर्ण खबरें-

comments

.
.
.
.
.