Tuesday, Oct 26, 2021
-->
mcd councilors robbing bjp shaving defeat in mcd elections - aap saurabh bhardwaj rkdsnt

पार्षद लोगों को लूट रहे हैं, चुनाव में हार के डर से लीपापोती कर रही है BJP- सौरभ भारद्वाज

  • Updated on 9/19/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। आम आदमी पार्टी के मुख्य प्रवक्ता सौरभ भारद्वाज ने आरोप लगाया है कि ‘’आप’’ ने अप्रैल में खुलासा किया था कि भाजपा के पार्षद लोगों को लूट रहे हैं। अब चुनाव में हार के डर से भाजपा लीपापोती कर रही है। भाजपा दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने तीन पार्षदों को पत्र लिखा है कि आर्थिक भ्रष्टाचार की शिकायतों की वजह से आपको पार्टी से 6 साल के लिए निकाला जा रहा है। ऐसे में आदेश गुप्ता बताएं कि जब आर्थिक भ्रष्टाचार की शिकायतें थीं तो इतने दिनों तक इंतजार किस बात का कर रहे थे? उन्होंने कहा कि भाजपा अब फिर दिल्ली की जनता को बेवकूफ बनाना चाहती है। भ्रष्टाचार के नाम पर पार्टी से निकालना कार्रवाई नहीं है बल्कि इनकी सीबीआई,एसीबी और विजिलेंस से जांच कराकर जेल भेजें। भाजपा ने दिल्ली में अभी सर्वे कराया है जिसके हिसाब से एमसीडी चुनावों में भाजपा की 272 में से 45 सीटें भी नहीं आ रही हैं। भाजपा की आगामी निगम चुनावों में बहुत करारी हार होने जा रही है। इसलिए भाजपा अब नया नाटक शुरू कर रही है।

यूपी में भाजपा सरकार के साढ़े चार :  सीएम योगी पर बरसे AAP सांसद संजय सिंह 

आम आदमी पार्टी के मुख्य प्रवक्ता और विधायक सौरभ भारद्वाज ने रविवार को प्रेसवार्ता को संबोधित किया। सौरभ भारद्वाज ने कहा कि पिछले 1 साल से हर सप्ताह भाजपा शासित नगर निगम में बड़े स्तर पर फैले हुए भ्रष्टाचार के बारे में सबूतों के साथ खुलासा कर रहे हैं। अभी तक भाजपा के दो दर्जन पार्षदों के बारे में सबूतों के साथ खुलासा कर चुके हैं कि वह खुल्लम-खुल्ला भ्रष्टाचार में लिप्त हैं। इमारतों के निर्माण में एक-एक लेंटर के पांच-पांच लाख रुपये वसूल रहे हैं। हर बार भाजपा का नेतृत्व और भाजपा दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष आदेश गुप्ता कहते थे कि आम आदमी पार्टी झूठे आरोप लगाती है।

'कांग्रेस ने पंजाब के सीएम के लिए नाम का किया ऐलान, अटकलें हुई फेल

उन्होंने कहा कि 2017 में नगर निगम के चुनाव में भाजपा के पार्षद पूरी तरह से जनता के बीच में बदनाम थे। भाजपा को भी मालूम था कि उनके पार्षदों की जनता के बीच भ्रष्टाचारी वाली छवि है। इस वजह से लोग उनसे नफरत करते हैं, अगर उनको दोबारा से चुनाव में उतारा तो उन्हें वोट नहीं देंगे। हालात यह थे कि वोट मांगने के लिए उनके घर भी नहीं जा सकते थे। ऐसे में नगर निगम 2017 के चुनावों में भाजपा ने सभी 272 पार्षदों की टिकट काट दी। तब भाजपा ने कहा कि नए ईमानदार चेहरे आपके सामने लेकर आएंगे। सारे पार्षद बदल दिए हैं, आप एक मौका दीजिए। भाजपा ने तब ‘नए चेहरे नई उड़ान दिल्ली मांगे कमल निशान’ का नारा दिया।

 जावेद अख्तर मानहानी मामले में कोर्ट ने कंगना रनौत को दी वारंट जारी करने की चेतावनी

सौरभ भारद्वाज ने कहा कि भाजपा ने दिल्ली के अंदर अभी सर्वे कराए हैं। इनके सर्वे के हिसाब से भी भाजपा की 272 में से 45 सीटें भी नहीं आ रही हैं। आगामी निगम चुनावों में इनकी बहुत करारी हार होने जा रही है। इसलिए भाजपा अब नए नाटक को शुरू कर रही है। अब अपने पार्षदों को भ्रष्टाचार के आरोपों के चलते निकालना शुरू कर रहे हैं। क्योंकि अब मेयर और स्टैंडिंग कमेटी का चुनाव हो चुका है। भाजपा को पार्षदों की जो जरूरत थी वह पूरी हो चुकी है। अब कुछ महीनों बाद पार्षद का चुनाव होने वाला है। इसलिए भाजपा को इन पार्षदों की जरूरत नहीं रही है। अब भाजपा को पार्टी से निकालने का नाटक कर रही है। 

पंजाब सियासी संकट का असर : राजस्थान CM गहलोत के OSD का इस्तीफा

उन्होंने कहा कि भाजपा ने अपने तीन पार्षदों ईडीएमसी की न्यू अशोक नगर की पार्षद रागिनी बबलू पांडे, उत्तरी दिल्ली नगर निगम की मुखर्जी नगर से पार्षद पूजा मदान और दक्षिणी दिल्ली नगर निगम से संजय ठाकुर को पत्र लिखा है। भाजपा दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने पत्र में लिखा है कि आपके बारे में आर्थिक भ्रष्टाचार की बहुत सारी शिकायतें मिली हैं। उसके बाद आपको कई बार समझाया गया है। क्योंकि आप नहीं मान रहे इसकी वजह से आपको पार्टी से 6 साल के लिए निकाला जा रहा है। ऐसे में आदेश गुप्ता बताएं कि जब आपके पास आर्थिक भ्रष्टाचार की शिकायतें थीं तो आप इतने दिनों तक किस बात का इंतजार कर रहे थे। सीबीआई, एसीबी, एमसीडी का विजिलेंस, केंद्र सरकार और उपराज्यपाल आपके पास हैं। इसके बावजूद अभी तक आपने भ्रष्टाचार की शिकायत सीबीआई और एंटी करप्शन ब्यूरो में नहीं दी है। इसकी क्या वजह है कि आप इनके प्रति इतनी नरमी बरत रहे थे। इन पार्षदों की महीने भर से भ्रष्टाचार की शिकायतें मिल रही थी तो चुप क्यों बैठे थे। अभी भी आपने इनकी शिकायत सीबीआई, एसीबी, विजिलेंस में दर्ज नहीं कराई है। ऐसे में साफ है कि दिल्ली की जनता को अब फिर दोबारा से बेवकूफ बनाना चाहते हैं। साढ़े चार साल निकलने के बाद दिखावटी कार्रवाई करके दिखाना चाहते हैं कि भाजपा भ्रष्टाचार के खिलाफ कार्रवाई कर रही है जबकि यह कोई कार्रवाई नहीं है। ऐसे में कार्रवाई तभी मानी जाएगी जब इन लोगों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करवाएं।
 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.