Saturday, Apr 21, 2018

मक्का मस्जिद विस्फोट केस : गुलाम नबी आजाद बोले- NIA से खत्म हो रहा है भरोसा

  • Updated on 4/16/2018

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। 2007 के मक्का मस्जिद विस्फोट मामले को लेकर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद ने आज कहा है कि राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) से अब लोगों का भरोसा खत्म होता जा रहा है। बता दें कि इस मामले में एक अदालत ने स्वामी असीमानंद समेत 5 आरोपियों को सबूतों के अभाव में बरी कर दिया है। 

रितिक रोशन ने दिल खोल कर की कॉमन वेल्थ गेम्स के खिलाड़ियों की तारीफ

कोर्ट के फैसले के बाद पत्रकार वार्ता में एनआईए की कामकाज पर सवाल उठाते हुए आजाद ने कहा, 'चार साल पहले सरकार बनने के बाद से यह (बरी किया जाना) हर मामले में हो रहा है। लोगों का एजेंसियों से भरोसा खत्म होता जा रहा है।'

इराक में मारे गए 39 भारतीयों का ब्योरा सुषमा स्वराज के मंत्रालय के पास भी नहीं

कठुआ रेप कांड को लेकर गुलाम नबी ने कहा कि जिस तरह से पीड़िता की वकील दीपाका रजावत को धमकियां मिल रही है, उससे तो कानून-व्यस्था पर भी शर्म आती है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार अगर इसमें कुछ नहीं कर सकती तो सुप्रीम कोर्ट ही एक सहारा है। 

कर्नाटक चुनाव के लिए भाजपा ने जारी की दूसरी लिस्ट, जानें कौन कहां से है मैदान में

उधर, मक्का मस्जिद विस्फोट मामले पर पूर्व केंद्रीय गृह मंत्री और कांग्रेस नेता शिवराज पाटिल ने कहा, 'मुझे यह कहने में काफी कठिनाई हो रही है कि यह सही है या गलत।' उन्होंने कहा कि उन्हें आरोपपत्र के नेचर के बारे में जानकारी नहीं है।  

कठुआ गैंगरेप केस: SC का पीड़िता के परिवार और वकील को सुरक्षा देने का निर्देश

आतंकवाद निरोधक एक विशेष अदालत ने 2007 के मक्का मस्जिद विस्फोट मामले में 5 लोगों को बरी करते हुए कहा कि अभियोजन उनके खिलाफ आरोप साबित करने में बिल्कुल असफल रहा है। इसलिए इस सभी को बरी किया जाता है। 

फीमेल प्रोफेसर से छेड़खानी के चक्कर में धरा गया सेना का कैप्टन

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.