Saturday, Jun 23, 2018

प्रधानमंत्री से मिले अकाली, उठाए कई सिक्खी मसले 

  • Updated on 6/8/2018

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। केन्द्रीय खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्री हरसिमरत कौर बादल  की अगुवाई में एक प्रतिनिधिमंडल ने आज प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से भेंट कर 'लंगर' और  'प्रसाद' की सामग्री पर लगने वाली जीएसटी में केन्द्र के हिस्से की वापसी करने के फैसले पर उन्हें धन्यवाद दिया। इसके अलावा प्रतिनिधिमंडल ने गन्ना किसानों के हित में केन्द्र द्वारा उठाए गये विभिन्न कदमों के लिए भी प्रधानमंत्री का शुक्रिया अदा किया।

प्रतिनिधिमंडल में शिरोमणि अकाली दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल, शिरोमणि गुरूद्वारा प्रबंधक कमेटी के अध्यक्ष गोविंद सिंह लोंगोवाल, अकाली दल के सभी सांसद, दिल्ली गुरुद्वारा कमेटी के अध्यक्ष मंजीत सिंह जीके, महासचिव मनजिंदर सिंह सिरसा सहित समिति के सदस्य भी शामिल थे।

बता दें कि 'सेवा भोज योजना' के तहत केन्द्र सरकार 'लंगर' और 'प्रसाद' के लिये खरीदी गई सामग्री पर वसूले गये सीजीएसटी और आईजीएसटी में से केन्द्र के हिस्से को वापस कर देगी। गुरुद्धारे सहित कई परमार्थ संस्थायें 'लंगर' और 'प्रसाद' का निशुल्क वितरण करती हैं।

पंजाब का पहला बिजनैस पोर्टल हुआ लांच, जल्द निपटेंगे वैट रिफंड मामले

केन्द्र सरकार के इस फैसले से पंजाब के लोगों खासकर सिख संगतों को बड़ी राहत मिली है। केंद्र सरकार का कहना है कि मानवता को मुफ्त भोजन देने की सेवा करने वालों पर कोई टैक्स नहीं लगेगा।

इस मौके पर अकाली दल ने सिखों से जुड़े कई अहम मुद्दे भी उठाये। साथ ही कहा कि देश की विभिन्न जेलों में कैद सिखों की रिहाई की जाए, जो सजा भी काट चुके हैं, या बीमार हालात में कैद हैं। इसके अलावा स्वामीनाथन कमीशन को लेकर भी सिख दल ने पीएम के समक्ष मुद्दा उठाया। साथ ही श्री गुरुनानक देव के साढ़े 500 साला शताब्दी वर्ष को बड़े स्तर पर मनाने की प्रधानमंत्री से अपील की।

इसके अलावा पाकिस्तानी सरजमीं पर स्थापित गुरुद्वारा करतार पुर साहिब में श्रद्धालुओं के आने जाने के लिए एक विशेष कॉरिडोर बनाने की प्रधानमंत्री से गुहार भी लगाइ्र। सूत्रों के मुताबिक प्रधानमंत्री मोदी ने सिखों के सभी पहलुओं को ध्यान से सुना और उसे पहल के आधार पर हल करने का भरोसा दिया। 
 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.