Tuesday, Jul 05, 2022
-->
mehbooba mufti mob lynching difference between india pakistan kmbsnt

PAK पर उमड़ा महबूबा का प्यार, कहा- लिचिंग पर वहां हुई 6 को फांसी, यहां हार पहनाया जाता है

  • Updated on 5/25/2022

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। जम्मू कश्मीर के कुलगाम में पीडीपी प्रमुख महबूबा मुफ्ती ने एक बार फिर केंद्र की बीजेपी सरकार पर निशाना साधा। वहीं भारत और पाकिस्तान के न्यायतंत्र की भी तुलना की। मुफ्ती ने कहा कि पाकिस्तान में एक आदमी को लिंच किया गया तो वहां उन्होंने 6 आदमी को फांसी और एक दर्जन लोगों को उम्रकैद की सजा दी। यहां 2015 के बाद कितने लिंच हो गए लेकिन उनको हार पहनाया जाता है और सम्मान होता है। तो उस न्यायतंत्र और इस न्यायतंत्र में यही फर्क है।

महबूबा मुफ्ती ने कहा कि इनके पास लोगों को देने के लिए कुछ नहीं है तो ऐसे में हिंदू-मुस्लिम का झगड़ा, मुस्लिमों को मरवाना, मस्जिदों पर कब्ज़ा करना रह गया है। मैं इनसे कहती हूं कि अगर आपके पास हिटलर की तरह कोई नुस्खा है तो बता दो कि आप मुसलमानों के साथ क्या करना चाहते हो।

इससे पहले महबूबा मुफ्ती ने राजद्रोह कानून पर केंद्र को घेरा था। उन्होंने कहा था कि अगर हमारा देश छात्रों, कार्यकर्ताओं, पत्रकारों पर देशद्रोह के आरोप लगाता रहा तो हमारी स्थिति श्रीलंका से भी बदतर हो जाएगी। उम्मीद है कि बीजेपी श्रीलंका से सबक सीखेगी और सांप्रदायिक तनाव, बहुसंख्यकवाद को रोकेगी। 

महबूबा मुफ्ती ने कहा कि यह बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है कि जिस तरह से अल्पसंख्यकों पर हमले हो रहे हैं, उनके घरों पर बुलडोजर चलाया जा रहा है। न्यायपालिका ऐसी घटनाओं पर स्वत: संज्ञान लेने के लिए आगे नहीं आ रही है।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.