Monday, Jan 30, 2023
-->
melinda gates met cm yogi, said- up is a  not only for india but for the world

CM योगी से मिलीं मेलिंडा गेट्स, कहा- भारत ही नहीं दुनिया के लिए मॉडल है UP

  • Updated on 12/7/2022

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। दुनिया के सबसे अमीर शख्स रहे बिल गेट्स की पत्नी और बिल एंड मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन की सह-संस्थापक मेलिंडा गेट्स ने बुधवार को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मुलाकात की। इस दौरान उन्होंने राज्य सरकार के साथ स्वास्थ्य, पोषण और कृषि के क्षेत्र में तकनीकी सहयोग को और बढ़ाने पर विचार-विमर्श किया।

राज्य सरकार के एक प्रवक्ता ने यहां बताया कि मेलिंडा ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से उनके सरकारी आवास पर मुलाकात की। इस दौरान उन्होंने सरकार के साथ स्वास्थ्य, पोषण और कृषि के क्षेत्र में तकनीकी सहयोग को और बढ़ाने पर विचार-विमर्श किया। उन्होंने कहा कि पंक्ति में अंतिम पायदान पर खड़े व्यक्ति को ध्यान में रखते हुए स्वास्थ्य सुरक्षा, वित्तीय समावेशन, पोषण, शिक्षा और महिला सशक्तिकरण के क्षेत्रों में उत्तर प्रदेश की कोशिशें प्रेरणा देने वाली हैं। उत्तर प्रदेश न केवल भारत, बल्कि पूरी दुनिया के लिए मॉडल है।

प्रवक्ता के मुताबिक मेलिंडा ने कहा कि हाल के वर्षों में कोविड-19 महामारी प्रबंधन और इंसेफेलाइटिस जैसी बीमारी पर नियंत्रण के लिए उत्तर प्रदेश ने जैसा काम किया है, वह एक अनुकरणीय मॉडल पेश करता है। इतनी बड़ी और सघन आबादी के बीच जिस तरह कोविड-19 टीकाकरण का काम हुआ है, उससे दुनिया को सीखना चाहिए। मेलिंडा ने उत्तर प्रदेश के साथ अपने फाउंडेशन के संबंधों की चर्चा करते हुए कहा कि स्वास्थ्य और सामाजिक सुरक्षा के क्षेत्र में लम्बे समय से काम किया जा रहा है।

यह खुशी की बात है कि समाज के सबसे कमजोर और अंतिम पायदान पर खड़े व्यक्ति तक सभी सुविधाएं पहुंचायी जा रही हैं। आने वाले समय में फाउंडेशन उत्तर प्रदेश के साथ अपने संबंधों को और बेहतर करने की मंशा रखता है। प्रवक्ता के मुताबिक मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस मौके पर कहा कि उन्होंने बिल एंड मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन के कार्यों को नजदीक से देखा है। स्वास्थ्य और पोषण के क्षेत्र में फाउंडेशन का योगदान सराहनीय है।

उन्होंने कोविड-19 की चुनौतियों के बीच फाउंडेशन की ओर से उत्तर प्रदेश को मिले सहयोग के प्रति आभार व्यक्त किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि उत्तर प्रदेश ने हाल के वर्षों में स्वास्थ्य और पोषण के क्षेत्र में संतोषजनक कामयाबी हासिल की है।

पिछले 40 साल से पूर्वांचल के हजारों बच्चों की मौत का कारण रही इंसेफेलाइटिस जैसी बीमारी से मृत्यु को 95 प्रतिशत तक नियंत्रित कर लिया गया है। इसके साथ-साथ चिकनगुनिया, कालाजार जैसे संचारी रोगों पर प्रभावी नियंत्रण के लिए हमें फाउंडेशन ने सहयोग किया है।

हालांकि आदित्यनाथ ने कहा कि स्वास्थ्य सुरक्षा के क्षेत्र में उत्तर प्रदेश में अब भी काफी काम किया जाना बाकी है। इस संबंध में राज्य में ‘मिशन निरामयाः' के तहत एक सॉफ्टवेयर विकसित किया गया है, जो नर्सिंग पैरामेडिकल स्टाफ की ट्रेनिंग और कौशल विकास का अच्छा मॉडल बना है।

फाउंडेशन योग्य और कुशल, प्रोफेशनल नर्सिंग स्टाफ, पैरामेडिक्स तैयार करने के लिए सरकार को सहयोग कर सकता है। मुख्यमंत्री ने मेलिंडा को 10-12 फरवरी 2023 में लखनऊ में आयोजित होने जा रही ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट का न्यौता भी दिया।

comments

.
.
.
.
.