Tuesday, May 17, 2022
-->
merit will lead to innovation in technical education

मेरिट से होगा तकनीकी शिक्षा में नवोन्मेष

  • Updated on 11/5/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। तकनीकी शिक्षा में नवोन्मेष को बढ़ावा देने के लिये सरकार जल्द ही ‘तकनीकी शिक्षा पर बहु विषयक शिक्षा शोध नवोन्मेष’ (मेरिट) नाम से एक नयी योजना शुरू करेगी जिसकी तैयारी पूरी हो गई है। अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद (एआईसीटीई) के अध्यक्ष अनिल सहस्त्रबुद्धे ने बताया कि तकनीकी शिक्षा में मेरिट के नाम से एक योजना शुरू की जायेगी। राष्ट्रीय शिक्षा नीति में इस संबंध में सुझाव दिया गया था जिसके बाद एक समिति बनाई गई और विश्वविद्यालयों के कुलपतियों के साथ बैठक की गई।

जेएनयू में कोविड केंद्र की स्थापना पर अदालत ने आप सरकार से जाना रुख

वित्त वर्ष 2021-22 के बजट में मेरिट के लिए 10 करोड़ रुपए हैं प्रस्तावित 
अब अधिसूचना के रूप में इसे पेश किया जा सकता है। इससे जुड़े कार्यों में एक महीने का समय लग सकता है। शिक्षा मंत्रालय से प्राप्त जानकारी के अनुसार, वित्त वर्ष 2021-22 के बजट में मेरिट की तैयारी के लिये 10 करोड़ रूपए की धनराशि का प्रावधान किया गया है। उल्लेखनीय है कि नयी राष्ट्रीय शिक्षा नीति में उभरती प्रौद्योगिकियों के प्रमुख क्षेत्रों में बहु-विषयक अनुसंधान को बढ़ावा देने तथा शिक्षकों की भर्ती के लिये पारदर्शी तंत्र तैयार करने पर जोर दिया गया है। एक ओर जहां मेरिट योजना शुरू हो रही है वहीं दूसरी ओर विश्व बैंक के सहयोग से चलने वाली तकनीकी शिक्षा गुणवत्ता सुधार परियोजना (टीईक्यूआईपी)-3 की अवधि 30 सितम्बर 2021 को समाप्त हो गयी।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.