Tuesday, Dec 07, 2021
-->
mhrd minister interact with all education ministers djsgnt

केंद्रीय मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने कहा- safety को ध्यान में रखकर खोला जाएगा स्कूल

  • Updated on 4/29/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। कोरोना वायरस के बढ़ते प्रभाव के बीच मंगलवार को मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने सभी राज्यों के शिक्षा मंत्री से संवाद किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि देशभर में स्कूल सुरक्षा प्रकरणों को ध्यान में रखकर ही खोला जाएगा। हालांकि उन्होंने ये नहीं बताया स्कूल कब तक खोले जा सकते हैं।

मिल गया कोरोना का इलाज! इस विटामिन की डोज से ठीक हो रहे हैं कोरोना के मरीज

निशंक ने कहा- नहीं होगी पठन सामग्री की कमी
मंत्री ने बताया कि लॉकडाउन में पठन साम्रगी की कमी नहीं होगी। एनसीईआरटी ने सभी राज्यों को किताबों का ई-कंटेंट उपलब्ध करवा दिया है। अब किताबों की दिक्कत नहीं होगी। बैठक के दौरान कई राज्यों के शिक्षा मंत्रियों ने लॉकडाउन के मद्देनजर जेईई मेन, नीट व अन्य परीक्षाओं का पाठ्यक्रम 30 फीसदी तक कम करने की मांग भी रखी। निशंक ने सभी शिक्षा मंत्रियों से बोर्ड एक्जाम के कॉपी मुल्यांकन में सहयोग करने की अपील की।

मिल गया कोरोना का इलाज! इस विटामिन की डोज से ठीक हो रहे हैं कोरोना के मरीज

मिड डे मील में कमी नहीं
साथ ही निशंक ने कहा, ‘लॉकडाउन के दौरान छात्रों को मध्याह्न भोजन योजना के तहत राशन प्रदान किया जा रहा है, ताकि उन्हें पर्याप्त एवं पौष्टिक भोजन मिले। इस गर्मी की छुट्टी में स्कूलों के छात्रों को मध्याह्न भोजन प्रदान करने को मंजूरी दी गई है। इसपर 1600 करोड़ रपये अतिरिक्त खर्च होंगे। इसके अतिरिक्त मध्याह्न भोजन योजना के तहत पहली तिमाही के लिये 2500 करोड़ रुपये का अस्थायी अनुदान जारी किया जा रहा है।’ 

Coronavirus: कोरोना संकट में गौतम गंभीर ने LNJP अस्पताल को दिए 1000 PPE किट

बोर्ड परीक्षा की कॉपी जांच शुरू करें
केंद्रीय मंत्री ने कहा कि कोविड-19 के मद्देनजर मध्याह्न भोजन योजना के तहत खाना पकाने पर आने वाले खर्च के मद में केंद्रीय आवंटन (दाल, सब्जी, तेल, मसाला, ईंधन की खरीद) को 7300 करोड़ रुपये से बढ़ाकर 8100 करोड़ रुपये कर दिया गया है, जो 10.99 प्रतिशत की वृद्धि है । मानव संसाधन विकास मंत्री ने राज्यों से कहा कि वे बोर्ड परीक्षा की उत्तर पुस्तिकाओं की जांच की प्रक्रिया शुरू करें। 

यहां पढ़ें कोरोना से जुड़ी महत्वपूर्ण खबरें

comments

.
.
.
.
.