Friday, Sep 30, 2022
-->
minority-dominated-areas-will-be-developed-in-ghaziabad-stamped-in-the-meeting-led-by-vk-singh

गाजियाबाद में अल्पसंख्यक बाहुल्य क्षेत्रों का होगा विकास, वीके सिंह की अगुवाई में हुई बैठक में लगी म

  • Updated on 7/30/2022

नई दिल्ली/टीम डिजीटल। जिला मुख्यालय स्थित महात्मा गांधी सभागार में शनिवार को एक अहम बैठक हुई। क्षेत्रीय सांसद व केन्द्रीय राज्यमंत्री वीके सिंह की अध्यक्षता में हुई इस बैठक में प्रधानमत्री जन विकास कार्यक्रम के तहत जिले के लिए 66 करोड़ से अधिक से विकास कार्यों के प्रस्तावों को मंजूरी मिली। बैठक में मंजूर हुई धनराशि से जिले में 25 फीसदी से ज्यादा अल्पसंख्यक आबादी वाले क्षेत्रों में काम कराए जाएंगे। डॉ जनरल वीके सिंह ने कार्यक्रम की जिलास्तरीय बैठक के दौरान प्रधानमंत्री जन विकास कार्यक्रम के तहत किए जा रहे कार्यों की समीक्षा की और अधिकारियों को जरूरी दिशा-निर्देश भी दिए।

क्या है पीएम जनविकास कार्यक्रम  
बैठक की अध्यक्षता करते हुए पीएम जनविकास कार्यक्रम पर प्रकाश डालते हुए डॉ जनरल वीके सिंह ने बताया कि प्रधानमंत्री जन विकास कार्यक्रम प्रदेश के सभी जनपदों में लागू है, इसके अंतर्गत 15 किलोमीटर के ऐसे क्षेत्र को लांभावित किया जाना है। जिन क्षेत्रों में 25 फीसदी से ज्यादा अल्पसंख्यक आबादी निवास करती है। यह एक समुदाय आधारित कार्यक्रम है। जिसके तहत शिक्षा, स्वास्थ्य,खेल, सैनिटेशन और महिला से जुड़े प्रोजेक्ट का निर्माण किया जाता है। उन्होंने जानकारी देते हुए बताया कि उक्त प्रोजेक्ट्स हेतु विकासखंड, जिला, राज्य व केंद्र स्तरीय समिति कार्य करती हैं। जिसमें जिला स्तरीय समिति द्वारा प्रस्तावों के अनुमोदन के बाद राज्यस्तरीय समिति को प्रस्तावों की मंजूरी के लिए भेज दिया जाता है। 

गाजियाबाद में चिन्हित किए गए हैं 6 क्षेत्र 
इस अवसर पर जिलाधिकारी राकेश कुमार सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि प्रधानमंत्री जन विकास कार्यक्रम के तहत जिले में कुल 6 क्षेत्रों को चुना गया है। जिसमें विकास खंड राजापुर, विकास खंड भोजपुर, नगर पालिका परिषद लोनी, नगर पालिका परिषद मुरादनगर, नगर पंचायत परिषद डासना, नगर निगम गाजियाबाद शामिल हैं। उन्होंने बताया कि इसके अलावा जनपद के अन्य क्षेत्रों में ग्राम पंचायतों, वार्डों के क्लस्टर के रूप में चयनित क्षेत्रों को जिनकी कुल आबादी का 25 प्रतिशत या उससे ज्यादा अल्पसंख्यक वर्ग की आबादी है को शामिल किया गया है।

विकास के लिए विभिन्न विभागों को जारी हुई मद
बैठक में वर्ष 2022-23 में बेसिक शिक्षा विभाग की परियोजनाएं  10 करोड़, यूपी नेडा विभाग को 2 करोड़ 25 लाख, जिला खेल कार्यालय को 11 करोड़, आचार्य क्षेत्रीय ग्राम्य विकास संस्थान को 62 लाख, जिला कार्यक्रम विभाग को 4 करोड़, पशु चिकित्सा विभाग को 40 लाख, कृषि विज्ञान केंद्र को 5 करोड़ 54 लाख, जिला विद्यालय निरीक्षक विभाग को 5 करोड़ 9 लाख, चिकित्सा विभाग को 17 करोड़ 74 लाख, विकास खंड भोजपुर को 4 करोड़ 77 लाख एवं विकास खंड रजापुर को 4 करोड़ 21 लाख मिले हैं। इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी विक्रमादित्य सिंह मलिक, एसीएम चंद्रेश कुमार, परियोजना निदेशक डीआरडीए पीएन दिक्षित, जिला प्रोबेशन अधिकारी विकास चंद्र, जिला कार्यक्रम अधिकारी शशि वाष्र्णेय, सह विद्यालय निरीक्षक सहित अन्य संबंधित विभाग के अधिकारी उपस्थित रहे। 
 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.