Monday, Aug 08, 2022
-->
modi bjp govt made jnu vice chancellor jagdish kumar president of ugc rkdsnt

JNU के कुलपति जगदीश कुमार को मोदी सरकार ने बनाया UGC का अध्यक्ष

  • Updated on 2/4/2022

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। केंद्र की मोदी सरकार ने जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) के कुलपति एम जगदीश कुमार को विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) का अध्यक्ष नियुक्त कर दिया है। अधिकारियों ने शुक्रवार को यह जानकारी दी। शिक्षा मंत्रालय के अनुसार, कुमार को पांच साल की अवधि के लिए उच्च शिक्षा नियामक के अध्यक्ष के रूप में नियुक्त किया गया है। मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, ‘‘केंद्र सरकार ने एम जगदीश कुमार को पांच साल की अवधि के लिए या 65 वर्ष की आयु का होने तक यूजीसी के अध्यक्ष के रूप में नियुक्त किया है।’’ 

फ्यूचर रिटेल लिमिटेड की बिक्री को लेकर बैंकों के गठजोड़ ने सुप्रीम कोर्ट को दिया सुझाव

 

प्रोफेसर डी पी सिंह के 65 वर्ष की आयु पूरी हो जाने पर यूजीसी अध्यक्ष पद से इस्तीफा देने के बाद सात दिसंबर से यह पद खाली था। सिंह ने 2018 में यूजीसी अध्यक्ष का कार्यभार संभाला था। पिछले वर्ष पांच साल का कार्यकाल पूरा होने के बाद कुमार वर्तमान में विश्वविद्यालय के कार्यवाहक कुलपति के रूप में कार्यभार संभाल रहे हैं। मंत्रालय ने अब तक जेएनयू में उनके उत्तराधिकारी की नियुक्ति नहीं की है। 

केजरीवाल ने गोवा के भविष्य के लिए कांग्रेस और भाजपा समर्थकों से की अपील

साल 2016 के राजद्रोह विवाद, कई बार अपने कार्यालय की तालाबंदी से लेकर 2019 में तत्कालीन मानव संसाधन विकास मंत्री को जेएनयू के दीक्षांत समारोह स्थल पर छह घंटे से अधिक समय तक रोके जाने तक, विश्वविद्यालय के कुलपति के रूप में कुमार का कार्यकाल विवादों से भरा रहा।

योगी आदित्यनाथ ने पेश किया 5 साल के यूपी कार्यकाल का रिपोर्ट कार्ड 

कुमार को जनवरी 2016 में जेएनयू का कुलपति बनाया गया था। उनकी नियुक्ति के ठीक एक हफ्ते बाद कुलपति के रूप में विवादों से उनका पहली बार तब सामना हुआ था, जब छात्रों ने संसद भवन पर हमले के दोषी अफजल गुरु की फांसी के खिलाफ एक कार्यक्रम आयोजित करने को लेकर प्रशासन के साथ हंगामा किया। 

पेट्रोल-डीजल की कीमतें बढ़ाने या घटाने को लेकर हरदीप पुरी ने संसद में रुख किया साफ 

इलेक्ट्रॉनिक इंजीनियरिंग और संबंधित क्षेत्रों में विशेषज्ञता रखने वाले कुमार ने इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग विभाग, भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी) मद्रास से एमएस (ईई) और पीएचडी (ईई) की डिग्री प्राप्त की है। उन्होंने पहले आईआईटी खडग़पुर में सहायक प्रोफेसर और आईआईटी दिल्ली में एसोसिएट प्रोफेसर के रूप में काम किया है।

वैवाहिक बलात्कार के मुद्दे पर मोदी सरकार ने दिल्ली हाई कोर्ट में रखा अपना पक्ष

comments

.
.
.
.
.