Tuesday, Oct 19, 2021
-->
Modi BJP govt strict about misuse of social media Ravi Shankar Prasad warns twitter rkdsnt

सोशल मीडिया के दुरूपयोग को लेकर मोदी सरकार सख्त, रविशंकर प्रसाद ने चेताया

  • Updated on 2/11/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। सूचना प्रौद्योगिकी (आईटी) मंत्री रविशंकर प्रसाद ने बृहस्पतिवार को फेसबुक, ट्विटर, व्हाट्सऐप और लिंक्डइन जैसे सोशल मीडिया मंचों को आगाह किया कि अगर उनका उपयोग भारत में झूठी खबरें फैलाने, हिंसा या वैमनस्य को बढ़ावा देने में किया जाता है तो उनके खिलाफ सख्ती की जाएगी। प्रसाद ने कहा कि अगर सोशल मीडिया का दुरूपयोग किया जाता है और झूठी खबरों के अलावा, हिंसा व वैमनस्य को बढ़ावा मिलता है तो ऐसे मामलों में कार्रवाई की जाएगी। 

AAP बोली- उत्तराखंड आपदा के पीड़ित परिवारों को 25-25 लाख रुपए मुआवजा दे मोदी सरकार

प्रसाद ने राज्यसभा में शून्यकाल के दौरान विभिन्न पूरक सवालों का जवाब देते हुए कहा कि सरकार सोशल मीडिया का सम्मान करती है और इस मंच से लोग अधिकार संपन्न हुए हैं। उन्होंने कहा कि भारत के डिजिटल इंडिया कार्यक्रम में सोशल मीडिया की अहम भूमिका रही है। प्रसाद ने कहा कि सरकार आलोचना के अधिकार का भी सम्मान करती है लेकिन ऐसे मंचों को देश के संविधान तथा कानूनों का पालन करना होगा। उन्होंने कहा कि अगर सोशल मीडिया के जरिए चुनाव प्रक्रिया को प्रभावित करने की कोशिश की जाती है तो चुनाव आयोग के अलावा सरकार भी कार्रवाई करेगी। 

आंदोलनकारी किसानों ने चार घंटे के लिए ‘रेल रोको’ अभियान का किया ऐलान

उन्होंने कहा कि पिछले दिनों अमेरिकी संसद भवन में हिंसा और यहां लाल किले में किसानों की ट्रैक्टर परेड के दौरान हिंसा के समय ऐसे मंचों का आचरण विरोधाभासी रहा। उन्होंने कहा कि कई सोशल मीडिया मंचों ने अमेरिका में पुलिस की कार्रवाई का समर्थन किया लेकिन यहां भारत में उलटा रुख अपनाया। उन्होंने कहा कि ऐसा दोहरा मानदंड स्वीकार नहीं किया जा सकता। प्रसाद ने कहा कि ऐसी कंपनियां भारत में काम करें, पैसे कमाएं लेकिन साथ ही वे संविधान और देश के कानूनों का भी पालन करें। 

माकपा ने न्यूज पोर्टल के कार्यालय पर ED छापे को स्वतंत्र मीडिया पर हमला करार दिया 

उन्होंने कहा कि सरकार मीडिया की स्वतंत्रता और व्यक्तियों के अधिकारों के लिए प्रतिबद्ध है, लेकिन यह देश में कानून व्यवस्था और सुरक्षा को लेकर भी समान रूप से चिंतित है। उन्होंने कहा कि देश का संविधान अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता की गारंटी देता है लेकिन अनुच्छेद 19 (2) में यह भी जिक्र है कि यह देश की 'संप्रभुता और अखंडता' के मद्देनजर उचित रोक के अधीन है। 

पेट्रोल, डीजल की कीमतों में लगातार दूसरे दिन बढ़ोतरी, धर्मेंद्र प्रधान की सफाई

प्रसाद ने सोशल मीडिया पर देश के लोगों की निजता की सुरक्षा के संदर्भ में कहा कि सरकार नए दिशानिर्देशों पर काम कर रही है। उन्होंने कहा कि जब नए दिशानिर्देश आएंगे तो कमियों को दूर किया जा रहा है और कार्य चल रहा है।' उन्होंने कहा कि वह मीडिया मंचों से कहना चाहते हैं कि स्वतंत्रता महत्वपूर्ण है, लेकिन वे आपत्तिजनक वीडियो दिखाकर इसका दुरूपयोग नहीं कर सकते। 

ओमप्रकाश राजभर बोले- राम मंदिर के नाम पर चुनाव के लिए चंदा जुटा रही है भाजपा 

 

 

 

यहां पढ़ें अन्य बड़ी खबरें...

comments

.
.
.
.
.