modi-revealed-how-kashmir-will-run-on-the-path-of-progress-peace-and-peace-will-return

पीएम का Kashmir plan: मोदी ने किया खुलासा, कैसे तरक्की की राह पर दौड़ेगा जम्मू- कश्मीर

  • Updated on 8/12/2019

नई दिल्ली/कुमार आलोक भास्कर।  पीएम नरेंद्र मोदी (pm narendra modi) ने धारा 370 पर महत्वपूर्ण फैसले लेने के बाद पहली बार एक अंग्रेजी अखबार को इंटरव्यू दिया है। जिसमें उन्होंने वादी में नए कश्मीर (kashmir) बनाने के अपने प्लान को लेकर खुलकर और बैबाकी से राय रखी है। पीएम ने कहा हमारी सरकार निवेश के रास्ते जम्मू और कश्मीर, (jammu & kashmir) लद्दाख (ladhakh) को विकास की ऊंचाई पर ले जाने को लेकर प्रतिबद्ध है। उन्होंने कहा कि इसके लिए सबसे पहले निवेश लायक सकारात्मक माहौल बनाने पर जोर दिया जा रहा है। ताकि बड़े-बड़े इनवेस्टर जब कश्मीर में अपना पैसा, संसाधन लगाये तो उसके जान-माल की  रक्षा भी सुनिश्चित होनी चाहिए।  

जम्मू-कश्मीर: काले रंग के नक्शे को शेयर कर ट्रोल हुईं स्वरा भास्कर, यूजर्स ने सुनाई खरी-खोटी 

कश्मीर को बदलने की रख दी है बुनियाद

पीएम ने कहा कि धारा 370 के बाद के 'बदले कश्मीर' को लेकर दुनिया भर में चर्चा हो रही है और सभी टकटकी निगाह से नजर रखे हुए है।  उन्होंने कहा कि कश्मीर को जिस तरह से बंद कमरे की तरह तब्दील कर दिया गया था पहले उसके दरवाजे खोले गए है ताकि देश-विदेश से निवेशक अंदर प्रवेश कर सके। उनके अंदर विश्वास भरने का चुनौतीपूर्ण काम करने के लिए हम देश समेत कश्मीरी जनता से आग्रह करते है कि आईए निवेशकों को आमंत्रित करके तरक्की के रास्ते खोलने का सही वक्त आ गया है। हमें सिर्फ आप साथ दीजिए कश्मीर और लद्दाख की तस्वीर बदलकर हम रख देंगे। 

Navodayatimes

ऑफ द रिकॉर्डः देश का जन्नत अब सुरक्षित, जानें कश्मीर का सच और धारा 370 का भ्रम

कानून व्यवस्था और स्थिरता कायम करने पर पीएम का जोर 
पीएम ने कहा कि बाजार का नियम है कि यह वहीं तेजी से बढ़ता है जहां कानून व्यवस्था और स्थिरता कायम रहती है। हमें कश्मीर के लिए संभावनाएं बनाने होंगे तभी तो देश-विदेश के निवेशक अपनी पूंजी निवेश करेंगे। इसके लिये जरुरी है कि कश्मीरी अवाम तरक्की पसंद लोगों को शांति का माहौल प्रदान करें। इसके लिये सबसे ज्यादा आवश्यकता है कि पीछे की तरफ न मुड़ते हुए आगे कश्मीरी नौजवानों के भविष्य को कैसे संवारा जाए इसपर बहस होनी चाहिए।

सपा सांसद शफीकुर्रहमान का मोदी सरकार पर प्रहार, कहा- देश के मुसलमान खौफ में हैं

धारा 370 बहुत पहले होना चाहिये था खत्म

पीएम ने राजनीतिक दलों से भी आग्रह करते हुए कहा कि हमने तो कुछ नया तो नहीं किया है बल्कि वहीं किया है जो बहुत पहले ही खत्म कर देना चाहिये था। इसलिये धारा 370 के कायम रहने से हो रहे नुकसान का भी हमें आकलन करना चाहिए। जम्मू और कश्मीर, लद्दाख में अपार संभावनाएं है जिसका पिछले 70 सालों से सही मायने में दोहन नहीं किया गया है। यहां भ्रष्टाचार चरम पर था। लगभग 98 फीसदी कश्मीरी अवाम को पिछले 70 साल से धारा 370 से कोई फायदा नहीं हुआ तो इसे हटाने का निर्णय लिया। 

जम्मू-कश्मीर में अमन चैन से मनाई गई बकरीद, मस्जिदों में पढ़ी गई नमाज

पीएम को भरोसा, जल्द ही पटरी पर लौटेगी जिंदगी
पीएम ने भरोसा जताया कि जल्द ही कश्मीर में हालात सामान्य होंगे। उन्होंने आश्चर्य प्रकट किया कि पिछले 70 सालों से देश के संसद से पास कानून भारतीय भूभाग पर हर जगह लागू तो हो रहा था लेकिन देश के मुकुट को एक सोची-समझी रणनीति के तहत दूर रखा गया। जिसका सबसे ज्यादा अगर नुकसान उठाना पड़ा तो वो कश्मीरी जनता है। जिसकी चिंता न तो वहां के राजनीतिक दलों ने की और न ही अलगाववादी नेताओं ने की। 

Navodayatimes

पी. चिदंबरम के बिगड़े बोल- मुस्लिम बहुल होने के कारण J&K से हटा अनुच्छेद 370

कश्मीर की जनता को भी तरक्की करने का हक

यहां तक कि देश में लंबे समय तक शासन करने वाले एक प्रमुख पार्टी ने भी कश्मीरी जनता की चिंता नहीं की। उसके हाल पर उसे छोड़ दिया गया। जिसका फायदा सबसे ज्यादा आतंकवादी और पाकिस्तान ने उठाया। लेकिन 21 वीं सदी में उसे भी तरक्की करने का अवसर प्रदान करना हमारा कर्तव्य है जिसको हमारी सरकार दृढ़ता से लागू कर रही है। फिर उसके लिये किसी को नाखुशी हो या किसी को दु्ख, हम अपने कश्मीरी भाई और बहनों को पीछे रहने के लिये नहीं छोड़ सकते है। बल्कि अब जब समान अवसर मिलेगे तो वे भी तरक्की करेंगे। इसके साथ ही अन्य राज्य की तरह वहां भी संसद से पास कानून का असर जल्द ही जमीन पर दिखना शुरु हो जाएगा। वहां के नौजवान, महिलाओं को फायदा दिखने लगेगा। जिसका हमें बेसब्री से इंतजार है।            

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.