Wednesday, Mar 03, 2021
-->
mohan bhagwat inaugurated the making of a true patriot background of gandhiji sohsnt

RSS प्रमुख मोहन भागवत ने कहा- हिन्दू धर्म के मूल में है देशभक्ति, यहां कोई देशद्रोही नहीं

  • Updated on 1/2/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत (RSS Chif Mohan Bhagwat) ने शुक्रवार को कहा कि अगर कोई हिंदू है तब वह देशभक्त होगा और यह उसका बुनियादी चरित्र है। संघ प्रमुख ने महात्मा गांधी की उस टिप्पणी को उद्धृत करते हुए यह बात कही जिसमें उन्होंने कहा था कि उनकी देशभक्ति की उत्पत्ति उनके धर्म से हुई है जेके बजाज और एमडी श्रीनिवास लिखित पुस्तक 'मेकिंग ऑफ ए हिंदू पैट्रियट: बैकग्राउंड ऑफ गांधी गांधी जी हिंद स्वराज' का लोकार्पण करते हुए भागवत ने यह बात कही।

प. बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ का दावा, हिंसक विधानसभा चुनाव होने की आशंका

किताब को लेकर भागवत ने कही ये बात
उन्होंने कहा कि किताब के नाम और मेरा उसका विमोचन करने से अटकलें लग सकती हैं कि यह गांधी जी को अपने हिसाब से परिभाषित करने की कोशिश है  इसके साथ ही उन्होंने कहा कि अलग होने का मतलब ये बिलकुल भी नहीं है कि हम एक समाज, एक धरती के बेटे बनकर नहीं रह सकते।

Guru Gobind Singh Jayanti 2021: आज है गुरु गोविंद सिंह जी की जयंती, जानें उनसे जुड़ी कुछ खास बातें

यहां कोई भी देशद्रोही नहीं- भागवत
आरएसएस प्रमुख ने किताब के संबंध में अधिक जानकारी देते हुए कहा कि यह किताब गांधी जी के बारे में एक प्रमाणिक शोध ग्रंथ है। इस किताब को लिखने से पहले सारे तथ्यों पर गंभीरता से विचार किया गया है। उन्होंने बताया कि गांधी जी ने कहा था कि मेरी देशभक्ति की पहचान मेरे धर्म से होती है। एक बात स्पष्ट है कि हिंदू है तो उसके मूल में देशभक्त होगा ही। यहां कोई भी देशद्रोही नहीं है। उन्होंने साथ ही कहा कि स्वराज समझने के लिए जरूरी है कि आप स्वधर्म को समझें इसके बिना स्वराज समझना मुश्किल है।

यहां पढ़े अन्य बड़ी खबरें...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.