Monday, May 16, 2022
-->
Monsoon session registration process started in JNU

जेएनयू में शुरू हुई मानसून सत्र की पंजीकरण प्रक्रिया

  • Updated on 9/20/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (JNU) में मानसून सत्र के सोमवार से पंजीकरण प्रारंभ दिए गए। इस पंजीकरण प्रक्रिया में विदेशी भाषा के बीए और एमए इंटीग्रेटेड छात्रों को छोडक़र अन्य छात्र भाग ले सकते हैं। रजिस्ट्रॉर प्रोफेसर रविकेश ने कहा कि मानसून सत्र पंजीकरण की यह प्रक्रिया अकादमिक काउंसिल द्वारा 158वीं बैठक में मान्य किए गए अकादमिक कलैंडर के अनुसार शुरु कर दी गई है।

दिल्ली की झुग्गियों और गलियों पर केंद्रित रहा प्रो.ऐश अमीन का व्याख्यान

3 अक्तूबर है प्रोविजनल पंजीकरण की अंतिम तिथि
यह प्रक्रिया छात्रों के लिए ऑनलाइन मोड में रखी गई है। 3 अक्तूबर तक छात्र मानसून सत्र के लिए पंजीकरण करा सकते हैं। ऐसे छात्र जो कोविड परिस्थितियों के कारण विवि. से दूर हैं वो सभी प्रोविजनल पंजीकरण करा सकते हैं। इसके अलावा जिन छात्रों को मानसून सत्र की ऑनलाइन पंजीकरण प्रक्रिया में समस्या आ रही है वह विवि. को पत्र के माध्यम से प्रोविजनल पंजीकरण के लिए कह सकते हैं जिसे छात्र की परिस्थिति का आंकलन करने के बाद पत्र के माध्यम से ही स्वीकार कर लिया जाएगा।

बहु-विषयक शोध को बढ़ावा देने के लिए जेएनयू ने गठित की टीमें : कुलपति

पुरानी दरों से ही छात्र अदा कर सकेंगे छात्रावास-मेस शुल्क
छात्रों को पंजीकरण के दौरान बीते सभी बकाया शुल्कों छात्रावास शुल्क, मेस शुल्क, ट्यूशन शुल्क आदि को अदा करना होगा। छात्रों ने छात्रावास शुल्क पुरानी दरों पर ही लिया जा रहा है। जो छात्र विदेशी भाषा के बीए-एमए इंटीग्रेटेड प्रोग्राम में हैं उनका पंजीकरण नए छात्रों के साथ 2 नवम्बर से 24 नवम्बर 2021 तक किया जाएगा।

comments

.
.
.
.
.